छिटपुट झड़पों के बावजूद, पश्चिम बंगाल में 6 घंटे में 38% मतदान

छिटपुट झड़पों के बावजूद, पश्चिम बंगाल में 6 घंटे में 38% मतदान

पश्चिम मिदनापुर की नौ सीटों, बांकुड़ा की आठ, दक्षिण 24 परगना की चार और पूर्व मिदनापुर की नौ सीटों में कोविड-19 दिशानिर्देशों के बीच मतदान जारी है।

पश्चिम बंगाल में 30 विधानसभा क्षेत्रों के लिए दूसरे चरण के मतदान के अंतर्गत शुरुआती छह घंटे में 38.23 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। निर्वाचन आयोग ने यह सूचना दी।

सुवेन्दु अधिकारी ने दिन के अंत तक 80 प्रतिशत से अधिक मतदान का दावा किया है। उन्होंने कहा कि नंदीग्राम में मतदान केंद्रों के बाहर सुबह 5 बजे से ही लंबी कतारें लगनी शुरू हो गई थी।

पश्चिम मिदनापुर की नौ सीटों, बांकुड़ा की आठ, दक्षिण 24 परगना की चार और पूर्व मिदनापुर की नौ सीटों में कोविड-19 दिशानिर्देशों के बीच मतदान जारी है।

मतदान शुरू होने के कुछ घंटे पहले, तृणमूल कांग्रेस के एक कार्यकर्ता उत्तम गोलू की पार्टी कार्यालय के बाहर केशमपुर, पश्चिम मिदनापुर में हत्या कर दी गई। तृणमूल ने भाजपा पर गोलू की हत्या का आरोप लगाया है।

जिलों के कुछ हिस्सों से हिंसा की सूचना मिली है। केशपुर में बूथ संख्या 173 पर भाजपा की एक महिला पोलिंग एजेंट को तृणमूल कार्यकर्ताओं द्वारा कथित रूप से पीटा गया।

केशपुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा नेता तन्मय घोष की कार में तोड़फोड़ की गई। भाजपा उम्मीदवार की कार पर पत्थर फेंके जाने के बाद केशपुर में भारी सुरक्षा तैनात की गई।

पोल पैनल के अधिकारियों ने हालांकि कहा कि बड़े पैमाने पर देखें तो, स्थिति शांतिपूर्ण है।

तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने ट्वीट किया, "भाजपा और उनका माइंड गेम्स काम नहीं करेगा। तृणमूल बूथ एजेंट्स नंदीग्राम के 354 बूथों में जमे हुए हैं। हमने 10 बूथों के लिए शिकायतें दर्ज की हैं। मतदाताओं को प्रभावित करने / डराने के सीआरपीएफ के सभी प्रयास काम नहीं करेंगे। लोगों ने ममता बनर्जी को अपने विधायक के रुप में चुनने के लिए प्रतिबद्धता जताई है।"

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news