श्रीनगर-शारजाह के बीच 5 उड़ानों के संचालन को मिली मंजूरी, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने दी स्वीकृति

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने श्रीनगर-शारजाह सीधी उड़ानों को प्रति सप्ताह 5 उड़ानों की सीमा तक बहाल करने की मंजूरी दे दी है। ये जानकारी जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने दी।
श्रीनगर-शारजाह के बीच 5 उड़ानों के संचालन को मिली मंजूरी, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने दी स्वीकृति

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने श्रीनगर-शारजाह सीधी उड़ानों को प्रति सप्ताह 5 उड़ानों की सीमा तक बहाल करने की मंजूरी दे दी है। ये जानकारी जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने दी।

सिन्हा ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने श्रीनगर-शारजाह उड़ानों को नियमित आधार पर प्रति सप्ताह 5 उड़ानों की सीमा तक मंजूरी दी है। पीएम नरेंद्र मोदी के प्रति मेरी गहरी कृतज्ञता है।

उन्होंने कहा, यूटी प्रशासन, नागरिक उड्डयन मंत्रालय, भारत सरकार और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया बढ़ते पर्यटन और उद्योग क्षेत्रों को पूरा करने के लिए हवाई संपर्क को मजबूत करने के लिए प्राथमिकता पर आवश्यक कदम उठा रहे हैं।

कश्मीर घाटी और संयुक्त अरब अमीरात के बीच सीधी हवाई संपर्क को 11 साल बाद 23 अक्टूबर, 2021 को फिर से शुरू किया गया, जब केंद्रीय गृह मंत्री, अमित शाह ने श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से शारजाह के लिए सीधी उड़ान का उद्घाटन किया।

गो फस्र्ट एयरलाइंस ने 27 मार्च, 2022 से श्रीनगर-शारजाह उड़ान का संचालन यह कहते हुए बंद कर दिया था कि उनके पास आवश्यक द्विपक्षीय अधिकार(बाइलेटेरल राइट्स) नहीं हैं।

एयरलाइंस को द्विपक्षीय अधिकारों की जरूरत है, जो अनुसूचित अंतर्राष्ट्रीय यात्री उड़ानों को संचालित करने के लिए दो देशों के बीच हस्ताक्षरित हवाई सेवा समझौते के तहत प्रदान किए जाते हैं।

कश्मीर और संयुक्त अरब अमीरात के बीच सीधी उड़ानें जम्मू-कश्मीर के कृषि, बागवानी उत्पादों और हस्तशिल्प को खाड़ी के बाजारों में निर्यात करने में मदद करेंगी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.