Earthquake: भूकंप के तेज झटकों से कांपा अरुणाचल प्रदेश, रिक्टर स्केल पर 5.7 रही तीव्रता

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक भूकंप का केंद्र अरुणाचल प्रदेश के बासर से 52 किलोमीटर उत्तर-उत्तरपश्चिम (NNW) में था। भूकंप भारतीय समयानुसार 10:31 AM बजे सतह से 10 किलोमीटर की गहराई में आया।
Earthquake: भूकंप के तेज झटकों से कांपा अरुणाचल प्रदेश, रिक्टर स्केल पर 5.7 रही तीव्रता

अरुणाचल प्रदेश में गुरुवार सुबह भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.7 थी। यह झटके पश्चिम सियांग जिले में महसूस किए गए। 

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक  भूकंप का केंद्र अरुणाचल प्रदेश के बासर से 52 किलोमीटर उत्तर-उत्तरपश्चिम (NNW) में था। भूकंप भारतीय समयानुसार 10:31 AM बजे सतह से 10 किलोमीटर की गहराई में आया।

Dhyanendra

वहीं, राज्य में दूसरा भूकंप 10:59 मिनट पर आया। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार इसकी तीव्रता 3.5 मापी गई। इस भूकंप का केंद्र भी राज्य का पश्चिम सियांग रहा है।

Dhyanendra

पिछले दिनों दिल्ली समेत कई राज्यों में आया था भूकंप

अभी पिछले दिनों ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के कई राज्यों में भूकंप के झटके आए थे। दिल्ली में मंगलवार देर रात भूकंप आया था। लोग भूकंप के डर से अपने घर के बाहर निकल आए थे। इस दौरान नेपाल में भी तेज भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। नेपाल में भूकंप से जानमाल को काफी नुकसान पहुंचा है।

कैसे आता है भूकंप?
भूकंप के आने की मुख्य वजह धरती के अंदर प्लेटों का टकरना है। धरती के भीतर सात प्लेट्स होती हैं जो लगातार घूमती रहती हैं। जब ये प्लेटें किसी जगह पर आपस में टकराती हैं, तो वहां फॉल्ट लाइन जोन बन जाता है और सतह के कोने मुड़ जाते हैं। सतह के कोने मुड़ने की वजह से वहां दबाव बनता है और प्लेट्स टूटने लगती हैं। इन प्लेट्स के टूटने से अंदर की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है, जिसकी वजह से धरती हिलती है और हम इसे भूकंप मानते हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news