इमरजेंसी लैंडिंग के बावजूद नहीं बचाई जा सकी 8 साल की बच्ची की जान, लखनऊ से मुंबई जा रहा था विमान

इमरजेंसी लैंडिंग के बावजूद नहीं बचाई जा सकी 8 साल की बच्ची की जान, लखनऊ से मुंबई जा रहा था विमान

लखनऊ से मुंबई जा रहे एक विमान की मंगलवार सुबह नागपुर एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी। जिसके बाद उसमें यात्रा कर रही 8 साल की एक बीमार बच्ची को अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई।

लखनऊ से मुंबई जा रहे एक विमान की मंगलवार सुबह नागपुर एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी। जिसके बाद उसमें यात्रा कर रही 8 साल की एक बीमार बच्ची को अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई।

बच्ची अपने माता-पिता के साथ विमान में यात्रा कर रही थी। पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी। सोनेगांव थाने के अधिकारियों ने कहा कि बच्ची उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थ नगर जिले के सहेरिखास गांव की रहने वाली थी और उसे उपचार के लिए लखनऊ से मुंबई ले जाया जा रहा था।

उन्होंने कहा, ‘यात्रा के दौरान बच्ची की हालत बिगड़ गई, जिसकी वजह से विमान की बाबासाहेब अंबेडकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी ’। अधिकारियों ने कहा कि बच्ची को सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई।

विमान की इमरजेंसी लैंडिंग

आयुषी पुनवासी प्रजापति उत्तर प्रदेश, सिद्दार्थ नगर के सहेरिखाट में चफ्फा की निवासी है और उनके पिता Goair Flight G8307 में थे। अधिकारियों ने कहा कि वे आर्थिक रूप से पिछड़े दिखाई पड़ रहे थे। अधिकारियों ने जानकारी दी की बच्ची की मौत की सही वजह का पता फिलहाल नहीं चल सका है।

जीएमसीएच के अधिकारियों ने कहा कि मौत के कारणों का पता लगाने के लिए विसरा के सैंपल संरक्षित किए गए हैं। हालांकि अनुमान जताए गए कि ऊँचाई में होने की वजह से बच्ची को हार्ट अटैक आया, जिसके कारण उसकी मौत हो गई।

अधिकारियों ने बताया, ‘बच्ची में खून की कमी थी। वह एनीमिक थी। हालांकि पिता ने इस वजह से बच्ची की बीमारी के बारे में जानकारी दी क्योंकि इसके बाद उन्हें विमान में सफर की इजाजत नहीं दी जाती’।

अधिकारी कहते हैं कि ऊंचाई में ऑक्सीजन की मांग बढ़ जाती है। अधिकारियों के अनुसार, जैसे ही यात्रा शुरू हुई, उसे सांस लेने में तकलीफ होने लगी जिसके चलते इमर्जेंसी लैंडिंग करानी पड़ी।

बच्ची को कार्डिऐक अरेस्ट पड़ने के बाद भी पिता ने इस बारे में बताया नहीं। क्रू मेंबर ने उनका बैग ढूंढा जिसमें बच्ची की ब्लड रिपोर्ट मिली। इसमें लिखा था कि बच्ची का हीमोग्लोबिन 2.5 ग्राम था। कोविड टेस्ट कराया गया था जो कि नेगेटिव रहा। शाम 6 बजे पिता को शव सौंप दिया गया।

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news