Chaliha Mahotsav 2022: 16 जुलाई से झूलेलाल मंदिर में शाम को 40 दिवसीय व्रत धारियों द्वारा प्रारंभ होगा आरती का कार्यक्रम

पिछले 2 वर्षों से करोना के कारण स्थगित किया जा रहा झूलेलाल चालीहा महोत्सव इस वर्ष बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाएगा।
Chaliha Mahotsav 2022: 16 जुलाई से झूलेलाल मंदिर में शाम को 40 दिवसीय व्रत धारियों द्वारा प्रारंभ होगा आरती का कार्यक्रम

पिछले 2 वर्षों से करोना के कारण स्थगित किया जा रहा झूलेलाल चालीहा महोत्सव इस वर्ष बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाएगा।

सिंधी समाज के किशन राजपाल ने बताया कि कैलाश लधवानी की अध्यक्षता में रविवार को शाम 8:00 बजे संत आसुदाराम आश्रम में झूलेलाल चालीहा महोत्सव के उपलक्ष्य में मेला कमेटी की एक आवश्यक बैठक बुलाई गई।

बैठक में कई महत्वपूर्ण विषयों पर गंभीर मंथन के पश्चात यह निर्णय लिए गए कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी झूलेलाल चालिहा महोत्सव में 16 जुलाई से झूलेलाल मंदिर पूज्य झूलेलाल धर्मशाला में शाम को 40 दिवसीय व्रत धारियों द्वारा आरती का कार्यक्रम शुरू हो जाएगा। 13 अगस्त को प्रभु झूलेलाल की प्रतिमा स्थापित की जाएगी।

14 अगस्त से नौ दिवसीय आरती के कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी। 18 एवं 19 तारीख को प्रातः काल पूज्य झूलेलाल धर्मशाला से प्रभात फेरी निकाली जाएगी। 20 तारीख को रॉयल पैलेस में मुंबई की सिंधु सखा संगम पार्टी द्वारा प्रभु झूलेलाल पर आधारित एक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा।

21 तारीख को गोरखपुर के संत रविदास द्वारा पूज्य झूलेलाल धर्मशाला में सत्संग का आयोजन किया जाएगा साथ ही साथ इसी कार्यक्रम में मेघावी छात्रों एवं समाज की वृद्ध महिला को सम्मानित किया जाएगा। 23 अगस्त को प्रभु झूलेलाल की एक विशाल शोभायात्रा का शहर के विभिन्न मार्गो से होते हुए बलरामपुर में जाकर प्रभु झूलेलाल की प्रतिमा विसर्जन के साथ महोत्सव का समापन किया जाएगा।

बैठक में मुख्य रूप से जगदीश रायतानी, दिनेश ठक्कुर, राजेश रायचंदानी,ओमी ठक्कुर, मनोहर वलेचा, पूरन खत्री, भोला सिंह , विजय वाधवानी, रवि ठक्कूर, प्रकाश आहूजा, जैकी वाधवानी,नीरज मंजर, प्रतीक केसवानी, मनीष आडवाणी, अनिल नेभानी, सागर ठक्कुर आदि लोग मुख्य रूप से मौजूद रहे।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news