कंगना के बाद कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने दिया 'आजादी' को लेकर विवादित बयान, जानिए क्या कहा

इससे पहले बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने आजादी को लेकर विवादित बयान दिया था। एक टीवी चैनल शो के दौरान कंगना ने कहा कि हमें जो आजादी 1947 में मिली वो भीख में मिली थी। भारत को असली आजादी साल 2014 में मिली है।
कंगना के बाद कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने दिया 'आजादी' को लेकर विवादित बयान, जानिए क्या कहा

अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने एक बार फिर बयान देकर सियासत गरमा दी है। मणिशंकर अय्यर का ताजा बयान देश की आजादी को लेकर है। अय्यर ने कहा कि पिछले सात सालों से हम अमेरिकियों के गुलाम बनकर रह गए हैं। एक सेमिनार में अय्यर ने कहा कि साल 2014 के बाद से हम अमेरिका के गुलाम हैं। इससे पहले बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने आजादी को लेकर विवादित बयान दिया था। एक टीवी चैनल शो के दौरान कंगना ने कहा कि हमें जो आजादी 1947 में मिली वो भीख में मिली थी। भारत को असली आजादी साल 2014 में मिली है।

भारत-रूस के बीच संबंध हुए कम- अय्यर

दिल्ली में भारत-रूस के रिश्तों को लेकर आयोजित सेमिनार में कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा कि पिछले सात साल से हम देख रहे हैं कि गुटनिरपेक्षता की तो बात ही नहीं होती, शांति को लेकर कोई चर्चा नहीं होती है। अमेरिकियों के गुलाम बनकर बैठे हैं और उनके कहने पर हम चीन से बच रहे हैं। हम कहें कि चीन के सबसे करीब दोस्त तो आप ही हो। दरअसल, मणिशंकर अय्यर भारत-अमेरिका के बीच मजबूत हो रहे संबंधों को लेकर सवाल खड़े किए।

अय्यर का कहना था कि भारत और रूस के रिश्ते बरसों पुराने हैं। रूस ने भारत को हमेशा सहयोग किया है, लेकिन जब से मोदी सत्ता में आए हैं, ये रिश्ता कमजोर हुआ है। मणिशंकर अय्यर ने कहा कि 2014 तक रूस के साथ हमारे संबंध और व्यापार अच्छे थे, लेकिन पिछले सात सालों में काफी कम हो चुके हैं। 

कंगना के बयान पर मचा बवाल

बता दें कि पिछले दिनों कंगना रनौत ने कहा था कि 1947 में भारत को मिली आजादी भीख की तरह था। देश को असली आजादी 2014 में मिली है। कंगना का ये बयान सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। इसे लेकर कंगना की खूब आलोचना भी हुई। लोगों ने इसे स्वतंत्रता सेनानियों का सरासर अपमान बताया और माफी मांगने की अपील की। हालांकि, कांगन रनौत ने माफी नहीं मांगी। 

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news