एमआईएम ने ऑक्सीजन, दवा मुहैया कराने के लिए कोविड हेल्पलाइन शुरू की

एमआईएम ने ऑक्सीजन, दवा मुहैया कराने के लिए कोविड हेल्पलाइन शुरू की

असदुद्दीन ओवैसी की अगुवाई वाली पार्टी मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) ने सोमवार को कोविड-19 मरीजों को घर पर इलाज के लिए मुफ्त में दवा और ऑक्सीजन मुहैया कराने के लिए हेल्पलाइन शुरू की।

असदुद्दीन ओवैसी की अगुवाई वाली पार्टी मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) ने सोमवार को कोविड-19 मरीजों को घर पर इलाज के लिए मुफ्त में दवा और ऑक्सीजन मुहैया कराने के लिए हेल्पलाइन शुरू की। हेल्पलाइन की स्थापना एक्सेस फाउंडेशन के सहयोग से मजलिस चैरिटी एजुकेशनल एंड रिलीफ ट्रस्ट द्वारा की गई है।

लोग सुबह 6 बजे से आधी रात तक हेल्पलाइन नंबर 73066-00600 पर संपर्क कर सकते हैं।

इलाज के लिए मरीजों और उनके परिचारकों का मार्गदर्शन करने के लिए डॉक्टरों की एक टीम मौजूद रहेगी।

हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने कहा कि कोविड-19 के उपचार से संबंधित किसी को भी मदद की जरूरत है, तो वह हेल्पलाइन पर संपर्क कर सकता है। डॉक्टर हर पॉजिटिव मरीज की जांच करेंगे और यह तय करेंगे कि मरीज को महज दवा किट की जरूरत है या ऑक्सीजन की भी।

ओवैसी ने कहा, डॉक्टरों की सलाह के मुताबिक, एमएलए और स्वयंसेवियों सहित एमआईएम के स्वयंसेवी मरीजों के घर पर ऑक्सीजन सिलेंडर वितरित करेंगे।

आगापुरा में एक कार्यात्मक हॉल में स्थापित कोविड वार रूम में कुल 250 ऑक्सीजन सिलेंडर और दवा किट रखे गए हैं।

एमआईएम प्रमुख ने लोगों की पीड़ा को कम करने के लिए हेल्पलाइन को एक छोटा प्रयास बताते हुए कहा कि वह पहले चरण में इस पर 1.40 करोड़ रुपये खर्च करेंगे।

उन्होंने कहा कि रबीउल अव्वल के इस्लामी महीने के दौरान हर साल एमआईएम द्वारा सार्वजनिक दान के रूप में जुटाए गए धन का उपयोग हेल्पलाइन के लिए किया जाएगा।

ओवैसी ने कहा, "हर साल हम 60-70 लाख रुपये सरकारी स्कूलों, विशेष रूप से उर्दू माध्यम स्कूलों के गरीब छात्रों की मदद करने और मेधावी छात्रों को नकद पुरस्कार देने के लिए खर्च करते हैं। चूंकि, कोविड की वजह से स्कूल बंद हैं, उस धन का उपयोग नहीं किया जा रहा है, इसलिए हम उसका उपयोग कोविड से राहत दिलाने पर कर रहे हैं।"

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news