एयर चीफ मार्शल चौधरी ने नए IAF प्रमुख के तौर पर संभाला कार्यभार

कार्यभार संभालने के बाद, नए प्रमुख ने कहा कि भारतीय वायु सेना का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी सौंपे जाने पर वह सम्मानित महसूस कर रहे हैं।
एयर चीफ मार्शल चौधरी ने नए IAF प्रमुख के तौर पर संभाला कार्यभार

एयर चीफ मार्शल वी. आर. चौधरी ने गुरुवार को भारतीय वायु सेना प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभाला। चौधरी ने एयर चीफ मार्शल आर. के. एस. भदौरिया की सेवानिवृत्ति के बाद वायु सेना प्रमुख की जिम्मेदारी संभाली।

कार्यभार संभालने के बाद, नए प्रमुख ने कहा कि भारतीय वायु सेना का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी सौंपे जाने पर वह सम्मानित महसूस कर रहे हैं।

सभी वायु योद्धाओं, गैर-लड़ाकों (नामांकित), डीएससी कर्मियों, नागरिकों और उनके परिवारों को बधाई देते हुए, एयर चीफ मार्शल चौधरी ने भारतीय वायुसेना की परिचालन क्षमता को बनाए रखते हुए सभी सौंपे गए कार्यों को पूर्ण समर्पण के साथ पूरा करने की उनकी क्षमता में पूर्ण विश्वास व्यक्त किया।

कमांडरों और कर्मियों के लिए फोकस क्षेत्रों को रेखांकित करते हुए, उन्होंने कहा, "हमारे राष्ट्र की संप्रभुता और अखंडता की रक्षा किसी भी कीमत पर सुनिश्चित की जानी है।"

उन्होंने कहा कि मौजूदा परिसंपत्तियों के साथ नए शामिल किए गए प्लेटफार्मों, हथियारों और उपकरणों के एकीकरण के माध्यम से परिचालन क्षमता में वृद्धि, और संचालन की अवधारणाओं में समान होना एक प्राथमिकता क्षेत्र रहेगा।

नए आईएएफ प्रमुख ने नई तकनीक के अधिग्रहण, स्वदेशीकरण और नवाचार को बढ़ावा देने, साइबर सुरक्षा को मजबूत करने, भविष्य की मांगों को पूरा करने के लिए प्रशिक्षण विधियों के तेजी से अनुकूलन और मानव संसाधनों के पोषण के लिए निरंतर काम पर जोर दिया।

चौधरी 1982 में वायुसेना के लड़ाकू बेड़े में भर्ती हुए थे और अपने कार्यकाल में उन्होंने 38000 घंटों से ज्यादा विभिन्न तरह के विमानों को उड़ाया है।

लगभग चार दशकों के अपने करियर के दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण पदों पर अपनी सेवाएं दी हैं।

बतौर डिप्टी चीफ चौधरी राफेल प्रोग्राम से करीब से जुड़े थे। वह फ्रांस में फाइटर जेट प्रोजेक्ट की प्रगति की निगरानी करने वाले द्विपक्षीय उच्च स्तरीय समूह के प्रमुख थे। चौधरी नेशनल डिफेंस अकादमी (एनडीए) के छात्र रहे हैं और डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज से ग्रेजुएट हैं।

उन्होंने उड़ान प्रशिक्षण प्रतिष्ठानों में एक प्रशिक्षक के रूप में भी कार्य किया है और वह एक वायु सेना परीक्षक भी रहे हैं।

एयर चीफ मार्शल चौधरी परम विशिष्ट सेवा मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल, वायु सेना मेडल प्राप्त कर चुके हैं और राष्ट्रपति के मानद एडीसी हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.