Amarnath Yatra 2021: शुरू हुआ अमरनाथ यात्रा का रजिस्ट्रेशन, जानें हर डीटेल

Amarnath Yatra 2021: शुरू हुआ अमरनाथ यात्रा का रजिस्ट्रेशन, जानें हर डीटेल

जम्मू-कश्मीर में स्थित बाबा बर्फानी के दर्शन करने के इच्छुक श्रद्धालुओं के लिए बड़ी खबर है। दक्षिण कश्मीर में हिमालय स्थित अमरनाथ गुफा के लिए होने वाली सालाना अमरनाथ यात्रा 2021 के लिए रजिस्ट्रेशन एक अप्रैल से शुरू होने जा रहा है।

जम्मू-कश्मीर में स्थित बाबा बर्फानी के दर्शन करने के इच्छुक श्रद्धालुओं के लिए बड़ी खबर है। दक्षिण कश्मीर में हिमालय स्थित अमरनाथ गुफा के लिए होने वाली सालाना अमरनाथ यात्रा 2021 के लिए रजिस्ट्रेशन एक अप्रैल से शुरू होने जा रहा है।

बाबा बर्फानी की यह गुफा 3,880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इसके लिए 56 दिवसीय यात्रा पहलगाम और बालटाल के रास्तों से 28 जून को शुरू होगी और 22 अगस्त को समाप्त होगी। हालांकि इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना होगा।

श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नीतीश्वर कुमार ने कहा कि दोनों रास्तों के लिए रजिस्ट्रेशन पूरे देश में 446 बैंक शाखाओं के जरिए 1 अप्रैल से शुरू होगा, जिसमें पंजाब नेशनल बैंक (316), जम्मू कश्मीर बैंक (90) और यस बैंक (40) की शाखा शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि रजिस्ट्रेशन के लिए प्रक्रिया के बारे में ब्यौरा, आवेदन पत्र और बैंक की शाखाओं की राज्यवार लिस्ट पूरे पते के साथ बोर्ड की वेबसाइट पर मौजूद है।

सीईओ ने कहा कि राज्य सरकारों या केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों की ओर से अधिकृत डॉक्टरों या चिकित्सा संस्थानों की ओर से जारी मेडिकल सर्टिफिकेट ही रजिस्टर्ड बैंक शाखाओं में स्वीकार किए जाएंगे।

सर्टिफिकेट अनिवार्य हैं क्योंकि गुफा बहुत ऊंचाई पर स्थित है और यात्रा कठिन है। कुमार ने कहा कि यात्रा-2021 के लिए 15 मार्च के बाद जारी हेल्थ सर्टिफिकेट ही वैध होंगे। पंजीकरण करने के लिए जिन कदमों का पालन करना होगा, उनके बारे में जानकारी बोर्ड की वेबसाइट पर डाल दी गई है।

इसमें आधार शिविरों तक पहुंचने की जरूरी जानकारी, सर्टिफिकेट के लिए पैसा, टट्टू, पालकी और पोर्टर्स के लिए फी भी शामिल हैं। कुमार ने कहा कि 13 वर्ष से कम या 75 वर्ष से अधिक आयु के लोग और छह सप्ताह से अधिक गर्भवती महिलाओं को इस वर्ष की यात्रा के लिए कोविड-19 मानदंडों के अनुसार पंजीकृत नहीं किया जाएगा।

यात्रा के लिए सप्ताह के हर दिन और रास्तों के लिए परमिट अलग-अलग होंगे। कुमार ने कहा कि जो तीर्थयात्री हेलीकॉप्टर से यात्रा करना चाहते हैं, उन्हें अग्रिम पंजीकरण की आवश्यकता नहीं होगी क्योंकि इसके लिए उनका टिकट पर्याप्त होगा। कुमार ने कहा कि हालांकि, उन्हें एक अधिकृत चिकित्सक द्वारा जारी अनिवार्य स्वास्थ्य प्रमाण पत्र प्राप्त करना जरूरी होगा।

इस बीच, जम्मू में अधिकारियों ने इस वर्ष अमरनाथ यात्रा के लिए शनिवार को भगवती नगर आधार शिविर में व्यवस्थाओं की समीक्षा की और आवास क्षमता 2,000 से बढ़ाकर 5,000 करने का आह्वान किया।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता पर जोर देते हुए जम्मू के उपायुक्त अंशुल गर्ग ने अधिकारियों को 'यात्री निवास' और यात्रियों के ठहरने के लिए आसपास पहचान किये गए स्थानों को स्वच्छ और हरित बनाये रखने का निर्देश दिया।

गर्ग ने यहां एक बैठक में बिजली, पेयजल, परिवहन, सुरक्षा, बैरिकेडिंग, मोबाइल टॉयलेट, क्लॉक रूम और सामुदायिक रसोईघर जैसी सुविधाओं की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को इस शिविर की आवास क्षमता को मौजूदा 2,000 से बढ़ाकर 5,000 करने का निर्देश दिया।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news