Amarnath yatra 2022: अस्थायी रूप से स्थगित की गयी अमरनाथ यात्रा, रेस्कयू ऑपरेशन अभी भी जारी

अधिकारियों ने कहा कि NDRF, SDRF, BSF, CRPF, सेना, पुलिस और आईटीबीपी की टीमों ने शनिवार सुबह बचाव अभियान शुरू कर दिया है।
Amarnath yatra 2022: अस्थायी रूप से स्थगित की गयी अमरनाथ यात्रा, रेस्कयू ऑपरेशन अभी भी जारी

जम्मू-कश्मीर के अमरनाथ गुफा के पास शुक्रवार शाम बादल फटने से 15 लोगों की मौत हो गई और 40 से अधिक घायल हो गए। रेस्कयू टीम लोगों की मदद कर रही है। इस बीच अमरनाथ यात्रा को अस्थायी रूप से स्थगित कर दिया गया है।

अधिकारियों ने यात्रा को बालटाल और पहलगाम, दोनों आधार शिविरों से अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है।

अधिकारियों ने कहा कि NDRF, SDRF, BSF, CRPF, सेना, पुलिस और आईटीबीपी की टीमों ने शनिवार सुबह बचाव अभियान शुरू कर दिया है।

गांदरबल जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) अफरोजा शाह ने संवाददाताओं को बताया कि शुक्रवार को बादल फटने से आई बाढ़ में 15 लोगों की मौत हो गई और 40 से अधिक लोग घायल हो गए। उन्होंने कहा कि अचानक आई बाढ़ के मलबे से पांच लोगों को बचाया गया है।

घायलों और लापता लोगों की सही संख्या का पता लगाने के लिए ऑपरेशन अभी जारी है।

आपदा स्थल से प्राप्त रिपोर्ट में कहा गया है कि तीर्थयात्रियों के 25 से 30 तंबू और पांच लंगर (सामुदायिक रसोई) शुक्रवार शाम करीब 5.30 बजे बादल फटने से पानी के तेज बहाव में बह गए।

सेना ने राहत और बचाव अभियान में नागरिक प्रशासन की सहायता के लिए हेलीकॉप्टरों को सेवा में लगाया है।

मौसम विज्ञान विभाग ने भविष्यवाणी की है कि एक और बादल बालटाल-पवित्र गुफा मार्ग की ओर बढ़ रहा है, जिससे हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news