जल्द ही ओडीशा, बंगाल तट पर पहुंचने को है 'अम्फान' चक्रवात, नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को 
मुश्किल वक्त के लिए एलर्ट किया
ताज़ातरीन

जल्द ही ओडीशा, बंगाल तट पर पहुंचने को है 'अम्फान' चक्रवात, नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को मुश्किल वक्त के लिए एलर्ट किया

चक्रवाती तूफान अम्फान पश्चिम बंगाल और ओडिशा में दस्तक देने ही वाला है। इसमें अब बहुत कम समय बचा है। सरकार तो सतर्क और सक्रिय है ही, इस बात को ध्यान में रखते हुए भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्रमुख पदाधिकारियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से एक बैठक की.

Yoyocial News

Yoyocial News

चक्रवाती तूफान अम्फान अब बस कुछ ही देर में पश्चिम बंगाल और ओडिशा में दस्तक देने वाला है. इसमें अब 24 घंटे से भी कम समय बचा है. मौसम विभाग का अनुमान है कि उफान पर पहुंचकर सुपर साइक्लोन तबाही मचा सकता है. पश्चिम बंगाल के दीघा में मंगलवार शाम से तेज हवाएं चलने लगी हैं. साथ ही बारिश भी शुरू हो गई है. बुधवार को इसी इलाके में अम्फान तूफान के आने का अनुमान है.

इस बात को ध्यान में रखते हुए भाजपा अध्यक्ष जे. पी. नड्डा ने इन दो राज्यों के अलावा आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के भी पार्टी के प्रमुख पदाधिकारियों संग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक बैठक की, और राहत उपायों में राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन को भाजपा कार्यकर्ताओं की मदद मुहैया कराने को कहा. नड्डा ने मंगलवार को एक बयान में कहा, "मैं भाजपा के सभी कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे अधिक से अधिक लोगों की मदद करने के लिए तत्पर रहें, ताकि चक्रवात के प्रभाव को कुछ हद तक कम किया जा सके."

वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने आज पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से बात की और उन्हें केंद्र से हर संभव मदद पहुंचाने की बात कही. वहीं, कोलकाता में भी चक्रवात का असर दिखाई देने लगा और बारिश हो रही है. बंगाल में अम्फान के चलते बुधवार को भूस्खलन की आशंका है.

नड्डा ने सेवा में एनडीआरएफ की टीमों की संख्या का भी उल्लेख किया और इसके साथ ही केंद्र द्वारा इन राज्यों की सरकारों को दी जा रही मदद के बारे में भी बात की. इस बैठक में भाजपा के राज्य अध्यक्ष, राज्य महासचिव, सभी चार राज्यों के महासचिव (संगठन) उपस्थित रहे.

मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक यह चक्रवाती तूफान (Cyclone Amphan) मंगलवार शाम तक बंगाल की खाड़ी से उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ रहा है. ये पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश के बीच दिग और हटिया द्वीप समूह (बांग्लादेश) के पास सुंदरवन के हिस्सों को पार करता हुआ आगे बढ़ सकता है. इस प्रकार यह अपने भीषण रूप में परिवर्तित होगा. इससे तटिए राज्यों को नुकसान का खतरा है. इन राज्यों के लिए अगले कुछ घंटे काफी अहम हैं.

आईएमडी के प्रमुख मृत्युंजय महापात्र ने मंगलवार को चेतावनी दी कि सुपर साइक्लोन हवा की तेज रफ्तार के साथ कल दोपहर के करीब पश्चिम बंगाल में दस्तक देगा. इससे कहीं अधिक नुकसान पहुंचने की संभावना है. उन्होंने आगे यह भी कहा कि यह 1999 के बाद से बंगाल की खाड़ी में अब तक का सबसे शक्तिशाली तूफान है.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news