गैंगस्टर विकास दुबे की गैंग के सबसे कम उम्र का साथी गिरफ्तार, हरदोई में मामा के घर छिपा था आरोपी
ताज़ातरीन

गैंगस्टर विकास दुबे की गैंग के सबसे कम उम्र का साथी गिरफ्तार, हरदोई में मामा के घर छिपा था आरोपी

विकास दुबे ने 3 जुलाई को बिकरू गांव में घात लगाकर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। एसटीएफ के एएसपी विशाल विक्रम सिंह ने कहा कि 24 वर्षीय शिवम दुबे इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस के अनुसार हमले के दिन वहां था।

Yoyocial News

Yoyocial News

उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे के एक और सहयोगी शिवम दुबे को गिरफ्तार कर लिया है।

विकास दुबे ने 3 जुलाई को बिकरू गांव में घात लगाकर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। एसटीएफ के एएसपी विशाल विक्रम सिंह ने कहा कि 24 वर्षीय शिवम दुबे इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस के अनुसार हमले के दिन वहां था।

इसके अलावा पहले से से गिरफ्तार हो चुके गिरोह के अन्य सदस्यों ने भी इस बारे में बयान दिए हैं।

शिवम को गुरुवार रात कानपुर नगर के चौबेपुर पुलिस स्टेशन के पास गादी साबुन कारखाने से गिरफ्तार किया गया। शिवम कथित तौर पर हरदोई में अपने मामा के घर में छिपा हुआ था। पुलिस द्वारा उसे ट्रैक करने पर उसने जगह बदल ली थी। बाद में एक मुखबिर से उसके कानपुर में होने की खबर मिली।

एसटीएफ के अनुसार, 3 जुलाई को पुलिस पर हमला करने के लिए इस्तेमाल की गई डबल बैरल बंदूक पहले ही पुलिस जब्त कर चुकी है। शिवम दुबे से पहले एसटीएफ दया शंकर अग्निहोत्री, श्यामू बाजपेयी, जहान यादव और शशिकांत को गिरफ्तार कर चुकी है।

वहीं विकास दुबे और उसके पांच सहयोगी प्रभात मिश्रा, अमर दुबे, बुआन दुबे, प्रेम प्रकाश पांडे और अतुल दुबे 3 जुलाई से 10 जुलाई के बीच अलग-अलग मुठभेड़ों में मारे गए हैं।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news