भारतीय व्यंजनों का प्रचार-प्रसार करेगा बीजिंग का 7 दिनी व्यंजन मेला

भारतीय व्यंजनों का प्रचार-प्रसार करेगा बीजिंग का 7 दिनी व्यंजन मेला

चीन की राजधानी बीजिंग में स्थित पांच सितारा होटल हयात रिजेंसी में चल रहे 'भारतीय स्वाद की यात्रा' नामक 7 दिवसीय फूड फेस्टिवल में ऐसे कई भारतीय विशेष व्यंजन का मजा लिया जा सकता है।

गोलगप्पे हो या गरमागरम मसाला चाय, मसालेदार चाप हो या ठंडी-ठंडी केवड़ा अखरोट कुल्फी, इन सभी जायकों का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। चीन की राजधानी बीजिंग में स्थित पांच सितारा होटल हयात रिजेंसी में चल रहे 'भारतीय स्वाद की यात्रा' नामक 7 दिवसीय फूड फेस्टिवल में ऐसे कई भारतीय विशेष व्यंजन का मजा लिया जा सकता है।

इस व्यंजन मेले की खास बात यह है कि इसमें भारत के कई राज्यों के विशेष पकवानों को शामिल किया गया है, जिसका लुत्फ न सिर्फ भारतीय, बल्कि चीन में बसे विदेशी भी उठा रहे हैं।

सात दिन तक चलने वाले इस भारतीय व्यंजन मेले की खास बात यह है कि इसमें हर उम्र के लोगों को ध्यान में रखकर मेन्यू तैयार किया गया है। जहां भारतीय तीखा खाना दुनियाभर में प्रसिद्ध है, वहीं बच्चों के लिए खास कुल्फी, चाउमीन का इंतजाम है।

स्वाद के अलावा स्वास्थ्य का भी खास ख्याल रखा गया है। इसमें सलाद के लिए अलग काउंटर बनाया गया है, जिसमें कई तरह की सलाद का आनंद उठाया जा सकता है।

इसके अलावा सबसे खास बात यह है कि अधिकतर व्यंजन आपके सामने ताजा बनाए जाएंगे, जिनमें आप अपने स्वादानुसार बदलाव भी करवा सकते हैं। अपनी इसी खूबी के कारण ज्यादातर चीनी लोग यहां आना पसंद कर रहे हैं।

बीजिंग स्थित हयात रिजेंसी के भारतीय शेफ रबियुल बक्श के अनुसार, चीनी लोगों को भारतीय खाना बहुत पसंद है, इसलिए ऐसे भारतीय व्यंजन मेले में आना उन्हें बेहद पसंद है। उन्होंने यह भी बताया कि चीनी लोग भारतीय संस्कृति को जानने के लिए भी उत्सुक रहते हैं, तो ऐसे में भारतीय शैली में परोसा गया भोजन उन्हें बहुत लुभाता है।

इस फूड फेस्टिवल में भारतीय व्यंजनों को परोसने का तरीका भी बेहद खास है। हर काउंटर की सजावट पर खास ध्यान दिया गया है। कठपुतलियां, कांसे की टोकनी, गिद्दा करती मूर्तियां, गोटे में सजी बैल की मूर्ति आदि अलग-अलग चीजें सजाकर पूरे हॉल को ऐसा सजाया गया है, मानो भारत के ही किसी रेस्तरां में आ गए हों। यह भारतीय व्यंजन मेला 2 अप्रैल तक जारी रहेगा।

(अखिल पाराशर, चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news