कोरोना को छलावा बताने वाले सपा नेता रमाकांत यादव पर मुकदमा दर्ज
ताजा तरीन

कोरोना को छलावा बताने वाले सपा नेता रमाकांत यादव पर मुकदमा दर्ज

आजमगढ़ के डीएम एनपी सिंह ने कहा है कि उन्हें बताना होगा कि कोरोना को लेकर दिए गए उनके बयान का वैज्ञानिक आधार क्या है. डीआईजी ने कहा कि इस प्रकार की अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Yoyocial News

Yoyocial News

यूपी के आजमगढ़ के पूर्व सांसद एवं समाजवादी पार्टी के नेता रमाकांत यादव को कोरोना वायरस को अफवाह और छलावा बताना भारी पड़ गया. जहाँ इस महामारी से बचाव के लिए शासन नित्य नए उपाय कर रहा है तो वहीं रमाकांत यादव को इसके विरोध में बयान देना महंगा पड़ गया.

उधर, इस मामले को गंभीरता से लेते हुए डीआईजी आजमगढ़ सुभाष चंद्र दुबे के आदेश पर शनिवार को सिधारी थाने में रमाकांत यादव के खिलाफ संबंधित धाराओं में केस दर्ज कराया गया. डीआईजी ने बताया कि इस प्रकार की अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

डीएम एनपी सिंह ने कहा है कि वह बताएं कि कोरोना को लेकर दिए गए उनके बयान का वैज्ञानिक आधार क्या है. डीएम ने उन्हें नोटिस जारी कर उनके दिए बयान का वैज्ञानिक आधार पूछा है

बता दें शुक्रवार को रमाकांत यादव ने कोरोना वायरस को लेकर कहा कि कोरोना एक छलावा है. कोरोना एक बहकाने वाला मामला है. कोरोना का अफवाह उड़ाया गया. मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि हमारे देश में एक भी व्यक्ति कोरोना से मरा हो तो बताइये आप. अगर किसी को कोरोना हुआ है तो लोग कहते है एक मीटर दूर रहिये, मैं कहता हूं कि लाइए मैं गले लगाता हूं. ये केवल सीएए के लिए, एनआरसी के लिए, महंगाई से भटकाने के लिए धरना प्रदर्शन न करें, इसके लिए भड़काया जा रहा है... कोरोना, कोरोना, कोरोना... कोरोना कुछ नहीं है, बाकी सरकार को भड़कायेगी'.

उधर, सरकार लगातार प्रयास कर रही है कि लोग एक जगह इकठ्ठे न होने पाएं. डीएम एनपी सिंह ने कहा है कि वह बताएं कि कोरोना को लेकर दिए गए बयान का वैज्ञानिक आधार क्या है. डीएम ने उन्हें नोटिस जारी कर उनके दिए बयान का वैज्ञानिक आधार पूछा है. साथ ही एक सप्ताह के अंदर नोटिस का जवाब देने का निर्देश दिया है.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news