केंद्र सरकार का फैसला, हज यात्रा को लेकर सभी VIP कोटा खत्म

पिछले दो साल से कोरोना के चलते हज पर जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में काफी कमी आई थी। कोरोना के चलते कई यात्रा प्रतिबंध लगाए गए थे। कोरोना को देखते हुए सऊदी अरब ने भी दुनिया भर के देशों के लिए यात्री कोटा कम कर दिया।
केंद्र सरकार का फैसला, हज यात्रा को लेकर सभी VIP कोटा खत्म

केंद्र सरकार ने हज में VIP कल्चर को लेकर बड़ा फैसला लिया है. केंद्र सरकार ने अब हज में VIP कल्चर को पूरी तरह खत्म कर दिया है. हज यात्रा के लिए वीआईपी कोटे की आरक्षित सीटों को खत्म कर दिया गया है। 

प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, अल्पसंख्यक मंत्री और हज कमेटी ऑफ इंडिया को आवंटित वीआईपी कोटे की लगभग सभी सीटों को समाप्त कर दिया गया है। जिसके बाद सभी सामान्य तीर्थयात्रियों की तरह हज में शामिल होंगे. किसी के लिए कोई विशेष व्यवस्था या आरक्षण नहीं किया जाएगा।

पिछले दो साल से कोरोना के चलते हज पर जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में काफी कमी आई थी। कोरोना के चलते कई यात्रा प्रतिबंध लगाए गए थे। कोरोना को देखते हुए सऊदी अरब ने भी दुनिया भर के देशों के लिए यात्री कोटा कम कर दिया। 

हालांकि, इस साल यानी 2023 में बिना किसी रोक-टोक के यात्रा संभव होगी। जिससे तीर्थयात्रियों की संख्या काफी बढ़ सकती है। इस साल 70 साल से ज्यादा उम्र के यात्री भी हज पर जा सकेंगे।

इस बीच भारत से हज पर जाने वाले लोगों के लिए सऊदी अरब से भी अच्छी खबर आई है. सऊदी अरब ने भारत से यात्री कोटा 1.75 लाख से बढ़ाकर दो लाख कर दिया है। 

सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद यह ऐलान किया. 

इस फैसले के बाद भारत के सभी राज्यों से आए ज्यादातर आवेदकों को यात्रा पर जाने का मौका मिला। पहले हजारों लोगों का आरक्षण लंबित था, जिसे अब स्वीकृत किया जा रहा है। भारत में हज के लिए सबसे अधिक संख्या में तीर्थयात्री उत्तर प्रदेश से आवेदन करते हैं। कहा जा रहा है कि इस राज्य से 30 हजार से ज्यादा लोग तीर्थ यात्रा पर जाएंगे।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news