ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ दिल्ली में कांग्रेस का प्रदर्शन

कांग्रेस के कोषाध्यक्ष पवन बंसल, महासचिव केसी वेणुगोपाल, हरीश रावत और अजय माकन शुक्रवार को ईंधन वृद्धि के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी में विभिन्न स्थानों पर विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे।
ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ दिल्ली में कांग्रेस का प्रदर्शन

कांग्रेस के कोषाध्यक्ष पवन बंसल, महासचिव केसी वेणुगोपाल, हरीश रावत और अजय माकन शुक्रवार को ईंधन वृद्धि के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी में विभिन्न स्थानों पर विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे। पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने शुक्रवार को देश भर में पेट्रोल पंपों के सामने प्रतीकात्मक विरोध प्रदर्शन करने की योजना बनाई है, जिसमें ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी को वापस लेने की मांग की गई है।

विरोध प्रदर्शन में वरिष्ठ नेताओं के साथ गौरव गोगोई, देवेंद्र यादव, दिल्ली प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल जैसे युवा नेता भी शामिल होंगे।

केसी वेणुगोपाल ने एक बयान में कहा, "भाजपा सरकार ने पिछली यूपीए सरकार की तुलना में पेट्रोल पर 23.87 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 28.37 रुपये प्रति लीटर उत्पाद शुल्क बढ़ाया है।

गलत नीतियों और भारी करों के कारण, देश के कुछ हिस्सों में पेट्रोल की कीमतें इन दिनों 100 रुपये प्रति लीटर को पार कर गई है, जबकि डीजल की कीमतें 100 रुपये प्रति लीटर तक पहुंचने के कगार पर हैं। हर कोई आवश्यक वस्तुओं पर पेट्रोल और डीजल की मुद्रास्फीति के व्यापक प्रभाव के बारे में जानता है।"

भाजपा सरकार की गलत प्राथमिकताओं और जनविरोधी नीतियों का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि कोरोना महामारी के पिछले 13 महीनों में पेट्रोल और डीजल के दामों में अभूतपूर्व रूप से क्रमश: 25.97 रुपये और 24.18 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। सिर्फ पिछले 5 महीनों में ही पेट्रोल-डीजल के दामों में 44 गुना की बढ़ोतरी हुई है, जो केंद्र की बीजेपी सरकार द्वारा जनता से लूट का जीता जागता उदाहरण है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news