लिव-इन पार्टनर के साथ कांस्टेबल ने की थाने में शादी, पुलिस अधिकारियों ने निभाई 'बाराती' की भूमिका

लिव-इन पार्टनर के साथ कांस्टेबल ने की थाने में शादी, पुलिस अधिकारियों ने निभाई 'बाराती' की भूमिका

बुलंदशहर में तीन साल से अधिक समय से लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वाले एक प्रेमी युगल की शादी जिले के एसएसपी ऑफिस में कराई गई, जिसमें पुलिस अधिकारियों ने 'बाराती' की भूमिका निभाई।

बुलंदशहर में तीन साल से अधिक समय से लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वाले एक प्रेमी युगल की शादी जिले के एसएसपी ऑफिस में कराई गई, जिसमें पुलिस अधिकारियों ने 'बाराती' की भूमिका निभाई। महिला ने पुलिस में शिकायत की थी कि उसका साथी लंबे समय से रिश्ते में रहने के बावजूद शादी के लिए टालमटोल कर रहा है।

पुलिस अधिकारियों ने पहले मध्यस्थ की भूमिका निभाई और फिर प्रेमी युगल के मामले को सुलझाने में मदद की।

'दूल्हा' औरैया थाने में एक कांस्टेबल के रूप में तैनात है, जबकि महिला बुलंदशहर की है।

हालांकि, 'दूल्हा' शादी से असंतुष्ट लग रहा था और उसने उसे दी जाने वाली मिठाइयों को भी नहीं हाथ लगाया।

सयाना स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) जितेंद्र कुमार सिंह ने कहा, एक महिला ने बुलंदशहर एसएसपी से शिकायत करते हुए कहा था कि तीन साल तक रिश्ते में रहने के बाद भी उसका साथी शादी से बच रहा है। जब वह शिकायत करने पहुंची तो उस समय उसका प्रेमी साथी भी मौजूद था। फिर एसएसपी ने उसकी बात मानकर दोनों की शादी कर दी।

एक वकील, प्रवीण कुमार ने कहा, दोनों ने हालांकि एक दूसरे को माला पहनाई, लेकिन कागजों का काम अभी भी बाकी है। इसे जल्द ही पूरा किया जाएगा।

दोनों लगभग तीन साल पहले तब मिले थे जब कांस्टेबल अक्सर महिला के पड़ोसी से मिलने जाता था।

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news