Coonoor Helicopter Crash: पूरी हुई वायुसेना की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी, बताया- कैसे हादसे का शिकार हुआ था हेलीकॉप्टर ?

बताया जा रहा है कि एयर मार्शल मानवेन्द्र सिंह की अगुवाई में हुई जांच ने पाया है कि खराब मौसम के चलते पायलट का ध्यान भटक गया जिस वजह से हादसा हुआ।
Coonoor Helicopter Crash: पूरी हुई वायुसेना की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी, बताया- कैसे हादसे का शिकार हुआ था हेलीकॉप्टर ?

देश के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत ( CDS Bipin Rawat) के हेलीकॉप्टर एम आई- 17 वी 5 हादसे को लेकर वायुसेना की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी लगभग पूरी हो गई है।

हालांकि दुर्घटना के कारणों को लेकर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नही आया है पर माना जा रहा है कि इसके पीछे बड़ी वजह खराब मौसम रहा है।

बताया जा रहा है कि एयर मार्शल मानवेन्द्र सिंह की अगुवाई में हुई जांच ने पाया है कि खराब मौसम के चलते पायलट का ध्यान भटक गया जिस वजह से हादसा हुआ।

तकनीकी आधार पर कहे तो इस तरह के हादसे तब होते है जब पायलट डिसओरिएंट हो जाय या फिर हालात का सही अंदाजा ना लगा पाए और गैर इरादतन हेलीकॉप्टर किसी से टकरा जाए। जबकि पायलट का हेलीकॉप्टर पूरा कंट्रोल होता है।

ऐसे हालात को कंट्रोल फ्लाइट इनटू टेरेन कहा जाता है। इस तरह के क्रैश ज़्यादातर खराब मौसम के दौरान तब होते हैं, जब पायलट हेलीकॉप्टर को लैंड करा रहा होता है। ऐसी हालात में पायलट को हेलीकॉप्टर कंट्रोल करना लगभग नामुमकिन हो जाता है।

यह भी पता चला है कि जांच दल ने ऐसे किसी संभावना से इंकार किया कि हेलीकॉप्टर में ना कोई तकनीकी खामी थी और ना ही हेलीकॉप्टर में कोई कमी थी।

फिलहाल जांच दल अपनी रिपोर्ट को और पुख्ता करने के लिए वायुसेना के ही लीगल डिपार्टमेंट से सलाह ले रही है और उम्मीद है चार पांच दिनों के भीतर यह रिपोर्ट वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी को सौंप दी जाएगी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news