Delhi lockdown
Delhi lockdown
ताजा तरीन

Corona crisis: PM मोदी की जनता से अपील, 'लॉकडाउन को गंभीरता से लें'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के माध्यम से राज्य सरकारों से भी अनुरोध कर कहा कि वे अपने यहां सख्ती के साथ नियम-कानून का पालन करवाएं।

Yoyocial News

Yoyocial News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को देशवासियों से अपील कर कहा है कि सभी लोग लॉक डाउन को गंभीरता से लें और अपने साथ-साथ अपने परिजनों की रक्षा करें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के माध्यम से राज्य सरकारों से भी अनुरोध कर कहा कि वे अपने यहां सख्ती के साथ नियम-कानून का पालन करवाएं।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, "लॉक डाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं।"

प्रधानमन्त्री इस सम्बन्ध में राज्यों कि मुख्मन्त्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग से बात भी कर रहे हैं.

दूसरी ओर बाहरी दिल्ली के नांगलोई, पश्चिम विहार, विकासपुरी, मुंडका, पीरागढ़ी,जनकपुरी और तिलकनगर जैसे इलाकों में कोरोनावायरस को फैलने से रोकने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा घोषित लाक डाउन की जमकर धज्जियां उड़ने की भी खबरें हैं. IANS के अनुसार इन इलाकों में सुबह से ही अजीब सी चहल-पहल है। आमतौर पर लाक डाउन में सिर्फ जरूरी चीजों की दुकानों खुली रहती हैं लेकिन इन इलाकों में कई जगहों पर सैलून, पंक्च र बनाने की दुकाने, नर्सरी, पान की दुकानें सुबह से ही खुली हुई हैं। और तो और इन इलाकों में सुबह से ही ई- रिक्शे और ग्रामीण सेवा चल रही है जबकि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को अपने प्रेस कांफ्रेंस में साफ शब्दों में कहा था कि इन चीजों पर पूरी तरह रोक होगी।

सैयद गांव नांगलोई स्थित रिलायंस फ्रेश के स्टोर में तो बहुत बुरा हाल है। यहां लोगों का जमावड़ा लगा है। लोग सामान लेने के लिए धक्का मुक्की तक करते देखे गए। आईएएनएस ने जब इस स्टोर के मैनेजर से सम्पर्क किया तो उसने कहा कि उसने तो गार्ड को यह निर्देश दे रखा है कि वह एक परिवार के एक ही व्यक्ति को अंदर आने दे और जो मास्क लगाकर नहीं आए हैं, उन्हें रोक दिया जाए लेकिन लोग मान नहीं रहे हैं। लोगों का यह आलम है कि सुबह उठकर वे स्टोर में इस इरादे से आए कि पूरे महीने का सामना खरीद लें।

जबकि सरकारें और प्रशासन बार बार जमाखोरी से बचने और किसी तरह के पैनिक से बचने की सलाह दे रहा है.

Corona crisis: PM मोदी की जनता से अपील, 'लॉकडाउन को गंभीरता से लें'

निहाल विहार, विकासपुरी और जनकपुरी में भी बंद के बावजूद सड़कों पर अजीब सी चहल-पहल देखी गई। नर्सरी खुली हुई हैं और लोगों के घरो में बागवानी करे वाले माली पौधों की खरीदारी करते देखे गए। निहाल विहार के अंदर के इलाकों में तो कुछ सैलून भी खुले दिखे।दिल्ली में धारा 144 लगा हुआ है लेकिन इसके बावजूद इन इलाकों में कई स्थानों पर समूह में लोग देखे गए।

इससे इस महामारी के और अधिक फैलने का खतरा है। लोगों के अंदर या तो जागरूकता की कमी है या फिर वे जानबूझकर नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं।तिलकनगर और निहाल विहार जैसे इलाकों में तो सरकार के आदेश के बावजूद कई गुरुद्वारे खुले दिखे।केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि किसी को रोका नहीं जाएगा लेकिन लोग जरूरी काम से बाहर निकलें पर इतने बड़े इलाके में कहीं भी कोई पुलिसवाला किसी से पूछताछ करता हुआ नहीं दिखा।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news