Cyclone 'Gulab': तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने लिया स्थिति का जायजा

सोमेश कुमार ने कहा कि मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर कलेक्टरों को सतर्क रहने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि जिले के राजस्व, पुलिस, पंचायती राज, सिंचाई एवं दमकल विभाग समन्वय से काम करें।
Cyclone 'Gulab': तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने लिया स्थिति का जायजा

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने सोमवार को चक्रवात 'गुलाब' के प्रभाव की वजह से हो रही भारी बारिश के कारण राज्य में स्थिति का जायजा लिया। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव सोमेश कुमार और अन्य शीर्ष अधिकारियों के साथ स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने मुख्य सचिव को किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान के खिलाफ सभी आवश्यक सावधानी बरतने का निर्देश दिया क्योंकि 'गुलाब' के प्रभाव के कारण राज्य भर में अगले दो दिनों तक भारी बारिश जारी रहने की संभावना है।

इस बीच, मुख्य सचिव सोमेश कुमार ने राज्य में भारी बारिश के मद्देनजर एक बार फिर जिला कलेक्टरों के साथ टेलीकांफ्रेंस की। सम्मेलन में डीजीपी महेंद्र रेड्डी, विशेष मुख्य सचिव, सड़क एवं भवन, सुनील शर्मा, सचिव, पंचायती राज, संदीप कुमार सुल्तानिया और सचिव, आपदा प्रबंधन, राहुल बोजा भी मौजूद थे।

सोमेश कुमार ने कहा कि मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर कलेक्टरों को सतर्क रहने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि जिले के राजस्व, पुलिस, पंचायती राज, सिंचाई एवं दमकल विभाग समन्वय से काम करें।

मुख्य सचिव ने अधिकारियों से जान-माल के नुकसान को रोकने के लिए पर्याप्त उपाय करने को कहा है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय में अलग से कंट्रोल रूम बनाया जाए और सचिवालय में बने कंट्रोल रूम को इसकी जानकारी दी जाए।

उन्होंने कहा कि अंतर्देशीय क्षेत्रों, तालाबों, खाई और पुलों जैसे समस्याग्रस्त क्षेत्रों में विशेष अधिकारियों की नियुक्ति करके स्थिति की समीक्षा की जानी चाहिए।

डीजीपी महेंद्र रेड्डी ने कहा कि उन्होंने पुलिस आयुक्तों और एसपी को जिला कलेक्टरों के साथ समन्वय में काम करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में पुलिस अधिकारियों के साथ टेलीकांफ्रेंस की गई है।

Note: Yoyocial.News लेकर आया है एक खास ऑफर जिसमें आप अपने किसी भी Product का कवरेज करा सकते हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.