'कोरोना वैक्सीन से नपुंसकता' वाले बयान पर  DCGI ने दी ये प्रतिक्रिया, कहा- 110% है सुरक्षित

'कोरोना वैक्सीन से नपुंसकता' वाले बयान पर DCGI ने दी ये प्रतिक्रिया, कहा- 110% है सुरक्षित

भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल वीजी सोमानी ने वैक्सीन के सुरक्षित होने के सवाल के जवाब में कहा कि अगर सुरक्षा को लेकर जरा भी संदेह होता तो हम कभी इसे मंजूर नहीं करते। टीके 110% सुरक्षित हैं।

भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल वीजी सोमानी ने वैक्सीन के सुरक्षित होने के सवाल के जवाब में कहा कि अगर सुरक्षा को लेकर जरा भी संदेह होता तो हम कभी इसे मंजूर नहीं करते। टीके 110% सुरक्षित हैं। हल्के बुखार, दर्द और एलर्जी जैसे कुछ दुष्प्रभाव हर टीका के लिए आम हैं। इस टीके से लोग नपुंसक हो सकते हैं, ये बात पूरी तरह बकवास है।

ड्रग्‍स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भारत में दो कोरोना वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) के आपातकाल इस्तेमाल को अंतिम मंजूरी दे दी है। हालांकि कोरोना वैक्सीन की मंजूरी से पहले ही इसको लेकर अफवाहों का बाजार भी गर्म हो गया है। कुछ लोगों ने वैक्सीन के साइड इफेक्टर को लेकर बयानबाजी शुरू कर दी है।

कोरोना वैक्सीन को लेकर कहा जा रहा है कि वैक्सीन लगवाने के बाद इंसान नपुंसक हो सकता है। देश में तेजी से बढ़ रही अफवाहों को देखते हुए DCGI ने इसे बकवास बताया है और इस ​तरह की अफवाहों से बचने की सलाह दी है। डीसीजीआई के कहा कि जिन दो वैक्सीन को मंजूरी दी गई है वह 110 प्रतिशत पूरी तरह से सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि अगर वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर जरा भी चिंता होती तो वे इसके इस्तेमाल की इजाजत नहीं देते। इन्होंने कहा कि वैक्सीन लेने के बाद हल्का बुखार, सरदर्द, एलर्जी जैसी मामूली दिक्कतें हो सकती है।

साइड इफ़ेक्ट ऑफ़ कोविड वैक्सीन side effects of covid vaccine

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news