दिल्ली : आज से शुरू होने जा रही है मेट्रो, सीमित सेवा के चलते रखें कुछ बातों का ख्याल, नहीं होगी परेशानी
ताज़ातरीन

दिल्ली : आज से शुरू होने जा रही है मेट्रो, सीमित सेवा के चलते रखें कुछ बातों का ख्याल, नहीं होगी परेशानी

लॉक डाउन के दौरान लंबे समय तक बंद रहने के बाद सोमवार को सुबह सात बजे से दिल्ली मेट्रो का परिचालन शुरू होगा। शारीरिक दूरी के नियम के साथ मेट्रो में लोग सफर कर सकेंगे। सफर के दौरान यात्रियों को स्वस्थ्य सम्बन्धी निर्देशों का पालन करना होगा।

Yoyocial News

Yoyocial News

सोमवार को सुबह सात बजे से दिल्ली मेट्रो का परिचालन शुरू होगा। शुरुआती दो दिन येलो लाइन (समयपुर बादली-हुडा सिटी सेंटर) व गुरुग्राम के रैपिड मेट्रो का परिचालन होगा। शारीरिक दूरी के नियम के साथ इस कॉरिडोर के मेट्रो में लोग सफर कर सकेंगे। सफर के दौरान यात्रियों को मास्क लगाकर रखना जरूरी है। येलो लाइन पर परिचालन शुरू होने के बाद अगले पांच दिन में तीन चरणों में अन्य सभी कॉरिडोर पर मेट्रो की सेवाएं शुरू होंगी। 12 सितंबर से सभी कॉरिडोर पर सामान्य रूप से मेट्रो का परिचालन शुरू हो जाएगा।

स्वास्थय सम्बन्धी सुरक्षा नियमों को लागू करने के चलते यात्रियों के जाँच में अधिक समय लगेगा, वहीँ कोच की क्षमता पूरी हो जाने पर और यात्रियों को कोच में नहीं जाने दिया जायेगा। इन सब कारणों को देखते हुए यात्रियों को सलाह है कि वे थोड़ा अतिरिक्त समय लेकर घर से निकलें।

इन दिशा निर्देशों का पालन जरूरी

  • मास्क पहनना आवश्य। मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपये जुर्माना लग सकता है।

  • सिर्फ स्मार्ट कार्ड से किराया भुगतान। टोकन नहीं मिलेगा।

  • शारीरिक दूरी के नियम का पालन जरूरी।

  • आरोग्य सेतु एप चालू हालत में होना चाहिए।

  • मेट्रो में एक सीट छोड़कर बैठें।

  • सफर के दौरान किसी चीज को हाथ न लगाएं।

  • सफर के दौरान छोटा बैग व कम सामान लेकर चलें।

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के अधिकारी ने कहा कि 49 किलोमीटर लंबी येलो लाइन कॉरिडोर पर 37 स्टेशन है। इन स्टेशनों पर यात्रियों को 2.44 मिनट से 5.28 मिनट के अंतराल पर मेट्रो उपलब्ध होगी। इस कॉरिडोर पर 57 मेट्रो ट्रेनें चलेंगी, जो 462 चक्कर लगाएंगी।

मेट्रो का परिचालन दो शिफ्ट में होगा। पहली शिफ्ट में सुबह सात से 11 बजे तक मेट्रो चलेगी। इसके बाद शाम चार बजे से रात आठ बजे तक मेट्रो सेवा उपलब्ध रहेगी। दोपहर में पांच घंटे मेट्रो का परिचालन बंद रहेगा।

36 स्टेशनों पर सिर्फ एक गेट खुलेगा। सिर्फ कश्मीरी गेट स्टेशन पर दो गेट खुले रहेंगे। इसलिए यात्री परेशानी से बचने के लिए डीएमआरसी की वेबसाइट या ट्विटर हैंडल पर यह देख लें कि किस स्टेशन पर कितने नंबर का गेट खुला रहेगा।

मेट्रो में अभी एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था की गई है।इसलिए प्रत्येेक कोच में 48 की जगह सिर्फ 24 यात्री बैठ पाएंगे। वहीं 25-26 यात्री एक से दो मीटर की दूरी बनाकर खड़े रह सकेंगे। इस व्यवस्थ के अन्तगर्त एक कोच में अधिकतम 50 यात्री सफर कर पाएंगे। छह कोच की मेट्रो की क्षमता करीब 1800 यात्रियों की होती है, किन्तु कोरोना के चलते अभी सिर्फ 300 यात्री ही इसमें सफर कर पाएंगे। कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए नए स्वास्थय नियमों का पालन करते हुए 20 फीसद क्षमता के साथ ही मेट्रो चलेगी।

कोरोना के संक्रमण से बचाव के दिशा-निर्देशा का सख्ती से पालन किया जाएगा। डीएमआरसी ने एक हजार अतिरिक्त कर्मचारियों को तैनात किया है। जो यात्रियों की मदद करेंगे और शारीरिक दूरी के नियम के पालन के लिए जागरूक करेंगे।

स्टेशनों पर भीड़ बढऩे पर छोटे लूप में भी मेट्रो को चलाई जा सकती है। डीएमआरसी ने इसके लिए भी पूरी तैयारी की है। रविवार को येलो लाइन पर छोटे-छोटे लूप में मेट्रो का परिचालन कर ट्रायल भी किया गया।

कंटेनमेंट जोन में स्थित स्टेशन पर मेट्रो नहीं रुकेगी। मेट्रो में इसकी उद्घोषणा भी की जाएगी। मेट्रो के ट्विटर हैंडर से भी यह जानकारी लोगों को दी जाएगी।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news