कोरोना नियमों के बीच रविवार से खुलेगी दिल्ली की निजामुद्दीन दरगाह, करना होगा इन नियमों का पालन
ताज़ातरीन

कोरोना नियमों के बीच रविवार से खुलेगी दिल्ली की निजामुद्दीन दरगाह, करना होगा इन नियमों का पालन

दरगाह जाने वाले लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा, वरना उन्हें प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। दरगाह में जगह-जगह सेनिटाइज करने के लिए मशीन लगाई गई है, उनका इस्तेमाल करना आवश्यक होगा।

Yoyocial News

Yoyocial News

कोरोना के चलते लॉकडाउन के दौरान बंद रही निजामुद्दीन दरगाह 6 सितंबर से सभी लोगों के लिए खुलने जा रही है। दरगाह में नियमों का पालन हो सके, इसलिए जगह-जगह सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर निशान बनाये गए हैं। लोगों के लिए सेनिटाइजेशन मशीन की व्यवस्था की गई है। दरअसल, कमेटी ने पहले भी दरगाह खोलने का फैसला लिया था लेकिन उस वक्त फैसले को वापस ले लिया गया।

दरगाह के इंचार्ज सईद अदीब निजामी ने बताया 'सरकार की गाइडलान्स के मुताबिक ही दरगाह के अंदर इंतजाम किए गए हैं। दरगाह में आने वाले हर शख्श को नियमों का पालन करना होगा। हमने इस वजह से लोगों के लिए जगह-जगह पर निशान भी बनाए हैं। दरगाह में आने वाले हर व्यक्ति को मास्क लगाना जरूरी होगा।'

ऐसे में दरगाह जाने वाले लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा, वरना उन्हें प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। दरगाह में जगह-जगह सेनिटाइज करने के लिए मशीन लगाई गई है, उनका इस्तेमाल करना आवश्यक होगा।

दरगाह के मुख्यद्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी, टेम्परेचर सही होने पर ही अंदर जाने की अनुमति होगी। साथ ही श्रद्धालुओं को दूरी बनानी होगी। दरगाह में कैमरे से लोगों पर निगरानी रखी जाएगी।

श्रद्धालुओं को दरगाह में अंदर रुकने की इजाजत नहीं होगी। ना ही मजार को छू सकेंगे और ना ही फूल चढ़ा सकेंगे। दरगाह के अंदर वुजू (हाथ-मुंह धोने) की अनुमति नहीं होगी। दरगाह में अगले आदेश तक कव्वाली नहीं होगी, वहीं 10 वर्ष से कम उम्र और 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को दरगाह में न आने का सुझाव दिया गया है।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news