Engineers Day 2021: जानें आखिर हर वर्ष 15 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है इंजीनियर्स डे, ऐसा क्या है खास..?

एम विश्वेश्वरैया को सबसे अग्रणी राष्ट्र-निर्माताओं में से एक माना जाता है, जिन्होंने ऐसे-ऐसे चमत्कार किए, जिन पर आधुनिक भारत का निर्माण हुआ था।
Engineers Day 2021: जानें आखिर हर वर्ष 15 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है इंजीनियर्स डे, ऐसा क्या है खास..?

भारत में हर वर्ष 15 सितंबर को इंजीनियर्स डे (अभियंता दिवस) मनाया जाता है। हालांकि, बहुत कम ही लोगों को जानकारी होगी कि 15 सितंबर को ही इंजीनियर्स डे क्यों मनाया जाता है।

दरअसल, इसी दिन महान सिविल इंजीनियर एम विश्वेश्वरैया का जन्म हुआ था। इनके जन्मदिवस को ही देश में इंजीनियर्स डे के रूप में जाना जाता है।

एम विश्वेश्वरैया को सबसे अग्रणी राष्ट्र-निर्माताओं में से एक माना जाता है, जिन्होंने ऐसे-ऐसे चमत्कार किए, जिन पर आधुनिक भारत का निर्माण हुआ था।

इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स इंडिया (IEI) के अनुसार, उन्हें 'भारत में आर्थिक नियोजन के अग्रदूत' के रूप में संदर्भित किया गया था। एम विश्वेश्वरैया को इंजीनियरिंग के क्षेत्र में उनके विभिन्न योगदानों और शिक्षा के अग्रणी होने के कारण इस दिन खास तौर पर याद किया जाता है।

विश्‍वेश्‍वरैया को मैसूर स्‍टेट का पिता कहा जाता था। उन्‍होंने मैसूर के विकास के लिए कई बड़े कार्य किए। विश्‍वेश्‍वरैया ने मैसूर सरकार के साथ काम करने के दौरान मैसूर साबुन फैक्ट्री, परजीवी प्रयोगशाला, मैसूर आयरन एंड स्टील फैक्ट्री स्थापित किया।

इसके अलावा श्री जयचमराजेंद्र पॉलिटेक्निक संस्थान, बैंगलोर एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, स्टेट बैंक ऑफ़ मैसूर, सेंचुरी क्लब, मैसूर चैम्बर्स ऑफ़ कॉमर्स एवं यूनिवर्सिटी विश्वेश्वरैया कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग की स्थापना भी करवाई. इसके साथ ही और भी अन्य शैक्षिणक संस्थान एवं फैक्ट्री की भी स्थापना की गई। आज भी उनके द्वारा दिए योगदान को आज भी देश याद करता है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news