आंध्र प्रदेश: छत्तीसगढ़ के शहीद का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

आंध्र प्रदेश: छत्तीसगढ़ के शहीद का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

हाल ही में छत्तीसगढ़ मुठभेड़ में शहीद हुए सीआरपीएफ कमांडर रायथू जगदीश का मंगलवार को राजकीय सममान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

हाल ही में छत्तीसगढ़ मुठभेड़ में शहीद हुए सीआरपीएफ कमांडर रायथू जगदीश का मंगलवार को राजकीय सममान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। विजयनगरम जिले के संयुक्त कलेक्टर जे.सी. किशोर कुमार, आरडीओ बी.एच. भवानी शंकर और सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

जगदीश के गांव गजुलारेगा से बड़ी संख्या में लोग अंतिम संस्कार में शामिल हुए, जहां उनका पार्थिव शरीर सुबह 9 बजे के आसपास लाया गया।

राज्य सरकार ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया। आंध्र पुलिस के साथ-साथ सीआरपीएफ के जवानों ने भी उनके सम्मान में अलग-अलग हवा में तीन राउंड फायरिंग की।

आधिकारिक समारोहों के पूरा होने के बाद कुमार और शंकर ने उस नायक के सम्मान में माल्यार्पण किया जिन्होंने देश के लिए अपना बलिदान दिया।

सीआरपीएफ के महानिरीक्षक जी.वी.एच. गिरि प्रसाद, डीआईजी ए. श्रीनिवास, कमांडेंट संजीव और कई अन्य अधिकारी भी अंतिम संस्कार के समय मौजूद थे।

विजयनगरम के सांसद बेलाना चंद्रशेखर, कोलागाटला के विधायक वीरभद्र स्वामी और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भी शहीद को श्रद्धांजलि दी।

जगदीश के साथ इस मुठभेड़ में आंध्र प्रदेश के एक अन्य जवान शाकमुरी मुरलीकृष्ण की भी मौत हो गई थी। मुरलीकृष्ण (32) गुंटूर जिले के सटेनपल्ली मंडल के गुडीपुड़ी गांव के निवासी हैं।

सोमवार को मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी ने शहीदों के परिवारों को 30-30 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news