गांधीनगर निगम चुनाव: त्रिकोणीय मुकाबले में भूपेंद्र पटेल की पहली चुनावी परीक्षा

गुजरात राज्य चुनाव आयोग (एसईसी) राज्य की राजधानी के 11 वाडरें के लिए 284 मतदान केंद्रों पर चुनाव कराएगा। एसईसी ने लोकतांत्रिक अभ्यास के लिए 1,500 से अधिक कर्मियों को प्रशिक्षित किया है।
गांधीनगर निगम चुनाव: त्रिकोणीय मुकाबले में भूपेंद्र पटेल की पहली चुनावी परीक्षा

आम आदमी पार्टी (आप) के प्रवेश के बाद, गांधीनगर नगर निगम चुनाव (जीएमसी) में अब रविवार को त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल रहा है, अन्य दो प्रतिद्वंद्वी भाजपा और कांग्रेस हैं। इसके अलावा, थारा और ओखा नगर पालिकाओं के साथ-साथ कुछ अन्य शहरों में खाली पड़ी सीटों पर भी उपचुनाव होने हैं। चुनाव इसलिए महत्वपूर्ण हैं क्योंकि यह नए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के लिए यह पहली चुनावी परीक्षा है।

गुजरात राज्य चुनाव आयोग (एसईसी) राज्य की राजधानी के 11 वाडरें के लिए 284 मतदान केंद्रों पर चुनाव कराएगा। एसईसी ने लोकतांत्रिक अभ्यास के लिए 1,500 से अधिक कर्मियों को प्रशिक्षित किया है।

कुल बूथों में से चार बेहद संवेदनशील, 144 संवेदनशील और 136 सामान्य बूथ हैं।

राज्य की राजधानी गांधीनगर में लगभग 2.30 लाख पंजीकृत मतदाता हैं, जो जीएमसी के 11 वाडरें में 162 उम्मीदवारों में से 44 पार्षदों का चुनाव करने के लिए अपने लोकतांत्रिक अधिकारों का प्रयोग कर सकते है।

इनमें भाजपा और कांग्रेस के 44-44, आप के 40, बहुजन समाज पार्टी के 14, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के 2, अन्य दलों के 6 और 11 निर्दलीय उम्मीदवार शामिल हैं।

वोटों की गिनती 5 अक्टूबर को होगी। जरूरत पड़ने पर किसी विशेष सीट के लिए 4 अक्टूबर को फिर से मतदान कराया जा सकता है।

मतदाताओं की एक बड़ी संख्या सरकारी कर्मचारी हैं और इसे देखते हुए नगर निगम चुनाव एक विशेष महत्व रखते हैं। इसके अलावा, भूपेंद्र पटेल के गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के बाद यह पहला बड़ा चुनाव है।

पिछले 2016 के चुनावों में, भाजपा और कांग्रेस दोनों ने कुल 32 सीटों में से प्रत्येक में 16 सीटें जीती थीं।

हालांकि, कुछ ही दिनों में, कांग्रेस के दो पार्षद भाजपा में शामिल हो गए, जिससे भगवा पार्टी के लिए जीएमसी में निकाय बनाने का मार्ग प्रशस्त हो गया। दलबदलुओं में से एक प्रवीण पटेल तब महापौर चुने गए थे।

जीएमसी चुनाव पहले 10 अप्रैल को होने वाले थे, लेकिन महामारी के कारण स्थगित कर दिए गए थे।

इसके अलावा अहमदाबाद नगर निगम की दो सीटों और जामनगर नगर निगम की एक सीट पर उपचुनाव होना है, जिसके लिए 10 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें से तीन-तीन भाजपा और कांग्रेस से, एक राकांपा से, दो आप से और एक दूसरी पार्टी से है।

गुजरात में सत्ताधारी दल थारा के वार्ड नंबर 3 की 4 और ओखा नगर पालिका के वार्ड नंबर 8 की 2 सीटों पर बीजेपी उम्मीदवारों को निर्विरोध विजेता घोषित किया गया है।

थारा, ओखा और भंवर में 78 सीटों के लिए कुल 205 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें से 78 भाजपा से, 72 कांग्रेस से, 52 आप से और 3 निर्दलीय हैं।

विभिन्न जिला पंचायतों में खाली छोड़ी गई 8 सीटों में से 24 प्रत्याशी मैदान में हैं।

Note: Yoyocial.News लेकर आया है एक खास ऑफर जिसमें आप अपने किसी भी Product का कवरेज करा सकते हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.