बीते 15 दिनों में हुई 78392 टन गेहूं की सरकारी खरीद

बीते 15 दिनों में हुई 78392 टन गेहूं की सरकारी खरीद

रबी विपणन सीजन (आरएमएस) 2021-22 का गुरुवार को आगाज के साथ देशभर में गेहूं की सरकारी खरीद शुरू हुई। हालांकि सीजन के आरंभ होने से पहले ही मध्यप्रदेश, गुजरात और राजस्थान में सरकारी एजेंसियों ने बीते 15 दिनों में 78,392 टन गेहूं की खरीद कर ली है।

रबी विपणन सीजन (आरएमएस) 2021-22 का गुरुवार को आगाज के साथ देशभर में गेहूं की सरकारी खरीद शुरू हुई। हालांकि सीजन के आरंभ होने से पहले ही मध्यप्रदेश, गुजरात और राजस्थान में सरकारी एजेंसियों ने बीते 15 दिनों में 78,392 टन गेहूं की खरीद कर ली है।

यह जानकारी केंद्रीय खाद्य मंत्रालय ने दी, जबकि पिछले साल इसी अवधि के दौरान महज 60 टन गेहूं की खरीद हो पाई थी। मध्यप्रदेश में 73,965 टन गेहूं की खरीद हो चुकी है, जबकि राजस्थान में 1,524 टन और गुजरात में 2,903 टन गेहूं की खरीद हुई है।

मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, पंजाब में गेहूं की खरीद 10 अप्रैल से होगी जबकि हरियाणा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली और जम्मू-कश्मीर से सरकारी एजेंसियों ने एक अप्रैल से गेहूं की खरीद की पूरी तैयारी कर ली है।

वहीं, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश और राजस्थान में 15 मार्च से, जबकि गुजरात में 16 मार्च से खरीद चालू है। बिहार में 20 अप्रैल और महाराष्ट्र में एक मई से गेहूं की खरीद शुरू होगी।

केंद्र सरकार ने रबी विपणन सीजन 2021-22 के दौरान कुल 427.363 लाख टन गेहूं की खरीद का अनुमान लगाया गया है, जो रबी विपणन सीजन 2020-21 के दौरान हुई 389.93 लाख मीट्रिक टन से 9.56 प्रतिशत अधिक है।

इसमें सबसे ज्यादा मध्यप्रदेश में 135 लाख टन, पंजाब में 130 लाख टन, हरियाणा में 80 लाख टन, उत्तर प्रदेश में 55 लाख टन, राजस्थान में 22 लाख टन, उत्तराखंड में 2.20 लाख टन, गुजरात 1.5 लाख टन, बिहार में एक लाख टन, हिमाचल प्रदेश में 6000 टन, महाराष्ट्र में 300 टन, दिल्ली में 50,000 टन और जम्मू-कश्मीर में 10,000 टन गेहूं की खरीद होने का अनुमान है।

चालू फसल वर्ष में गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1,975 रुपये प्रति क्विंटल तय किया गया है।

मंत्रालय ने बताया कि पिछले सीजन 2020-21 में सेंट्रल पुल के लिए जो करीब 390 लाख टन गेहूं की खरीद की गई थी, जिसका लाभ 43.36 लाख किसानों को मिला।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news