सुभाष चंद्र बोस के पौत्र और पश्चिम बंगाल के भाजपा उपाध्यक्ष चंद्र कुमार बोस ने भी नागरिकता कानून पर उठाए सवाल
चंद्र कुमार बोस yoyocial.com

सुभाष चंद्र बोस के पौत्र और पश्चिम बंगाल के भाजपा उपाध्यक्ष चंद्र कुमार बोस ने भी नागरिकता कानून पर उठाए सवाल

बोस ने ट्वीट कर कहा, 'यदि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) किसी धर्म से संबंधित नहीं है तो हम क्यों हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई, पारसी और जैन की बात कर रहे हैं। तो मुस्लिम को क्यों शामिल नहीं किया गया?

देश में नागरिकता संंशोधन कानून को लेकर चल रहे बवाल रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अब भारतीय जनता पार्टी के नेता ही इसका विरोध करने लगे हैं। पश्चिम बंगाल से भाजपा के उपाध्यक्ष और सुभाष चंद्र बोस के पोते चंद्र कुमार बोस ने इस कानून का विरोध किया है। चंद्र बोस ने ट्वीट कर अपना विरोध जताया।

चंद्र कुमार बोस ने ट्वीट कर कहा, 'यदि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) किसी धर्म से संबंधित नहीं है तो हम क्यों हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई, पारसी और जैन की बात कर रहे हैं। तो मुस्लिम को क्यों शामिल नहीं किया गया? हमें पारदर्शी होने की जरूरत हैं।' उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'भारत की बराबरी या किसी अन्य राष्ट्र के साथ तुलना न करें- क्योंकि यह राष्ट्र सभी धर्मों और समुदायों के लिए खुला है।'

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'भारत की बराबरी या किसी अन्य राष्ट्र के साथ तुलना न करें- क्योंकि यह राष्ट्र सभी धर्मों और समुदायों के लिए खुला है।'

कल इस कानून के खिलाफ कांग्रेस ने राजघाट पर सत्याग्रह किया। इस मौके पर राहुल गांधी ने सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला। सोमवार को पश्चिम बंगाल में इस कानून के पक्ष में भाजपा ने अभिनंदन यात्रा निकाली। इस दौरान भाजपा के उपाध्यक्ष का ऐसा बयान भाजपा के लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news