बेंगलुरु में भारी बारिश से जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

बेंगलुरु केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (केआईएएल) राजमार्ग पर ट्रैफिक जाम के कारण दो घंटे से अधिक समय तक वाहन सड़कों पर फंसे रहे।
बेंगलुरु में भारी बारिश से जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बेंगलुरु में अगले तीन दिनों तक बारिश की संभावना जताई है। बारिश के चलते बेंगलुरु में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

आईएमडी ने बुधवार को कर्नाटक के तटीय जिलों और पहाड़ी क्षेत्रों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है।

बेंगलुरु में बुधवार को बूंदाबांदी हुई। हालांकि, मंगलवार देर रात शहर में हुई भारी बारिश ने जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया।

बेंगलुरु केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (केआईएएल) राजमार्ग पर ट्रैफिक जाम के कारण दो घंटे से अधिक समय तक वाहन सड़कों पर फंसे रहे।

आरआर नगर के जनप्रिय लेआउट और बेंगलुरु के कई अन्य इलाकों में घरों में नाली का पानी भर गया।

वहीं, छह महीने पहले बनी 20 फीट ऊंची परिसर की दीवार भी लगातार बारिश के बाद गिर गई।

बेंगलुरु में भारी बारिश से कई मुख्य सड़कों पर पेड़ उखड़ गए, जिससे वाहनों का आवागमन प्रभावित हुआ है।

बेंगलुरु शहरी, बेंगलुरु ग्रामीण, चामराजनगर, चिक्कबल्लापुर, चिक्कमगलूर, चित्रदुर्ग, दावणगेरे, हासन, कोडागु, कोलार, मांड्या, मैसूर, रामनगर, शिवमोग्गा और तुमकुरु जिलों के लिए गुरुवार और शुक्रवार के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

केरल और कर्नाटक के मदिकेरी जिले में हाल ही में लगातार बारिश के बाद, श्रीरंगपटना में कृष्णा राजा सागर बांध में जल स्तर 100 फीट तक पहुंच गया है। 10 साल में पहली बार मई के महीने में जलस्तर इस स्तर पर पहुंचा है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news