दिल्ली-NCR सहित देश के बड़े इलाके में तेज बारिश कीआशंका, ओडिशा-बंगाल में Amphone चक्रवात का खास अलर्ट
ताज़ातरीन

दिल्ली-NCR सहित देश के बड़े इलाके में तेज बारिश कीआशंका, ओडिशा-बंगाल में Amphone चक्रवात का खास अलर्ट

चक्रवाती तूफ़ान की आशंका जताई गई है जिसका असर आठ राज्यों और केंद्र शाषित प्रदेशों में पड़ सकता है. इस तूफ़ान के चलते भारी बारिश की आशंका है. पूर्वानुमान में दिल्ली-एनसीआर सहित उत्तर भारत के बड़े इलाके में तूफानी बारिश और और आंधी की आशंका जताई गई है

Yoyocial News

Yoyocial News

मौसम विभाग की भविष्यवाणी के अनुसार ओडिशा के तटीय इलाकों के साथ ही अंदमान निकोबार द्वीपसमूह में आज और कल तेज बारिश की आशंका है. पश्चिम बंगाल का बड़ा इअलाका भी इससे प्रभावित हो सकता है. AMPHAN नाम के चक्रवाती तूफ़ान की आशंका जताई गई है जिसका असर आठ राज्यों और केंद्र शाषित प्रदेशों में पड़ सकता है. इस तूफ़ान के चलते भारी बारिश की आशंका है. इस पूर्वानुमान में दिल्ली-एनसीआर सहित उत्तर भारत के बड़े इलाके में तूफानी बारिश और और आंधी की आशंका जताई गई है.

ओडिशा सरकार ने शुक्रवार को तटीय इलाके के 12 जिला कलेक्टरों को तैयार रहने को कहा है, क्योंकि बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती तूफान 'अम्फान' घुमड़ रहा है। मुख्यसचिव असित त्रिपाठी ने यह सुनिश्चित करने के लिए शुक्रवार को एक समीक्षा बैठक की कि चक्रवात के कारण उत्पन्न होने वाली किसी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए सभी एहतियाती कदम उठाए गए हैं।

सभी जिला कलेक्टरों, खासतौर से उत्तर ओडिशा के जिला कलेक्टरों से कहा गया है कि वे स्थिति पर बराबर नजर रखें। त्रिपाठी ने जगतसिंहपुर, केंद्रापाड़ा, बालासोर और भद्रक जिलों के कलेक्टरों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संभावित तूफान के लिए उठाए जाने वाले कदमों के बारे में गहन चर्चा की।

विशेष राहत आयुक्त(एसआरसी) प्रदीप जेना ने कहा कि आईएमडी के अनुसार, बंगाल की खाड़ी के दक्षिणपूर्व हिस्से के ऊपर निम्न दबाव गहराकर एक डिप्रेशन में बदल सकत है और उसके बाद वह बंगाल की खाड़ी के दक्षिणी हिस्से और उससे लगे मध्य हिस्से के ऊपर 16 मई की शाम तक एक चक्रवाती तूफान में बदल सकता है।

एसआरसी ने कहा 'यह निश्चित नहीं है कि तूफान उत्तर ओडिशा से टकराएगा या पश्चिम बंगाल या बांग्लादेश की तरफ बढ़ जाएगा। अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है। लेकिन सरकार संभावित चक्रवात से निपटने के लिए तैयार है। एहतियात के तौर पर हमने 12 जिला कलेक्टरों को हाई अलर्ट पर रखा है।'

जेना ने कहा कि ओडिशा डिजास्टर एक्शन फोर्स (ओडीआरएएफ), नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (एनडीआरएफ) और अग्निशमनकर्मियों को तैयार रहने को कहा गया है। हालांकि उनकी तैनाती का निर्णय आईएमडी से चक्रवात के रास्ते के बारे में संकेत मिलने के बाद लिया जाएगा।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news