Hindi Diwas 2022: हिंदी दिवस के मौके पर अमित शाह ने देश को किया संबोधित, बोले- 'एकता के सूत्र में पिरोती है राजभाषा'

गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी दिवस के मौके पर देश को संबोधित किया। उन्होंने कहा, देश की भाषाई संपन्नता को ध्यान में रखते हुए संविधान निर्माताओं ने अलग से प्रावधान किया, जिसमें प्रारंभिक 14 भाषाएं रखी गईं।
Hindi Diwas 2022: हिंदी दिवस के मौके पर अमित शाह ने देश को किया संबोधित, बोले- 'एकता के सूत्र में पिरोती है राजभाषा'

हिंदी दिवस के मौके पर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को देशवासियों को शुभकामनाएं दीं। प्रधानमंत्री ने कहा कि हिंदी ने भारत को विश्व स्तर पर विशेष सम्मान दिलाया है और इसकी सादगी और संवेदनशीलता हमेशा लोगों को आकर्षित करती है।उन्होंने अपने एक ट्वीट में उन सभी का दिल से धन्यवाद व्यक्त किया जिन्होंने देश की सबसे बड़ी बोली जाने वाली भाषा को समृद्ध और मजबूत करने के लिए अथक प्रयास किए हैं।

गृहमंत्री ने देश को किया संबोधित 
गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी दिवस के मौके पर देश को संबोधित किया। उन्होंने कहा, देश की भाषाई संपन्नता को ध्यान में रखते हुए संविधान निर्माताओं ने अलग से प्रावधान किया, जिसमें प्रारंभिक 14 भाषाएं रखी गईं। अब आठवीं अनुसूची में 22 भाषाएं हैं। सभी भाषाओं का अपना-अपना स्थान है। सभी भारतीय भाषाओं से समन्वय स्थापित करते हुए हिंदी ने जनमानस के मन में विशेष स्थान हासिल किया है। यही कारण है कि आजादी के आंदोलन में अनेक स्वतंत्रता सेनानियों ने हिंदी को संपर्क भाषा बनाकर आंदालेन की गति बढ़ाने का प्रयास किया।

गृह मंत्री ने कहा, आज जब देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। ऐसे में यह सामूहिक प्रयास होना चाहिए कि हिंदी को लेकर संविधान द्वारा निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करें।

इसके अलावा शाह ने हिंदी दिवस की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट भी किया। उन्होंने लिखा, "राजभाषा हिंदी राष्ट्र को एकता के सूत्र में पिरोती है। हिंदी सभी भारतीय भाषाओं की सखी है। मोदी सरकार हिंदी सहित सभी स्थानीय भाषाओं के समानांतर विकास हेतु प्रतिबद्ध है। हिंदी के संरक्षण व संवर्धन में योगदान देने वाले महानुभावों को नमन करता हूँ।"

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news