हिंदी को बढ़ावा देने और इसकी सार्वजनिक पहुंच बढ़ाने के लिए भारत ने सयुंक्त राष्ट्र को दिए 6 करोड़ रुपए

हिंदी को बढ़ावा देने और इसकी सार्वजनिक पहुंच बढ़ाने के लिए भारत ने सयुंक्त राष्ट्र को 6 करोड़ रुपए दिए हैं।
हिंदी को बढ़ावा देने और इसकी सार्वजनिक पहुंच बढ़ाने के लिए भारत ने सयुंक्त राष्ट्र को दिए 6 करोड़ रुपए

हिंदी को बढ़ावा देने और इसकी सार्वजनिक पहुंच बढ़ाने के लिए भारत ने सयुंक्त राष्ट्र को 6 करोड़ रुपए दिए हैं।

भारत के उपस्थायी प्रतिनिधि आर. रवींद्र ने दुनिया भर में हिंदी भाषी आबादी के बारे में जानकारी मुहैया कराने के लिए संयुक्त राष्ट्र को 6 करोड़ रूपए का चेक सौंपा।

संयुक्त राष्ट्र ने अपने एक बयान में कहा है कि, हिंदी की पहुंच बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास जारी हैं।

बयान में आगे कहा गया, इन प्रयासों के हिस्से के रूप में, हिंदी संयुक्त राष्ट्र परियोजना, संयुक्त राष्ट्र के सार्वजनिक सूचना विभाग के सहयोग से 2018 में शुरू की गई थी। इसका उद्देश्य दुनिया भर में लाखों हिंदी भाषी लोगों के बीच पहुंच बढ़ाना और जागरूकता फैलाना है।

बता दें कि, भारत 2018 से यूएन डिपार्टमेंट ऑफ ग्लोबल कम्युनिकेशंस (डीजीसी) के साथ काम कर रहा है और डीजीसी के समाचारों और मल्टीमीडिया सामग्री को हिंदी में मुख्यधारा में लाने के लिए अतिरिक्त बजटीय योगदान प्रदान कर रहा है।

2018 से, संयुक्त राष्ट्र हिंदी भाषा में न्यूज यूएन की वेबसाइट और सोशल मीडिया हैंडल और फेसबुक पेज के माध्यम से प्रसारित कर रहा है, साथ ही हर हफ्ते एक नियमित यूएन न्यूज-हिंदी ऑडियो बुलेटिन जारी किया जाता है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.