भारत व्यापार संघ ने किया भारत आस्ट्रेलिया सामरिक गठबंधन का स्वागत, 150 से अधिक उद्यमी हुए शामिल

भारत व्यापार संघ भारतीय उद्यमियों को उद्योगों और क्षेत्रों में विभिन्‍न देशों में सहक्रियाओं का पता लगाने में सहायता करता है। इस तरह की पहल भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था तक ले जाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाएगी।
भारत व्यापार संघ ने किया भारत आस्ट्रेलिया सामरिक गठबंधन का स्वागत, 150 से अधिक उद्यमी हुए शामिल

भारत ऑस्ट्रेलिया सामरिक गठबंधन (आईएएसए) और भारत व्यापार संघ (आईबीसी) माननीय पूर्व ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री श्री टोनी एबॉट और माननीय पूर्व कनाडाई प्रधान मंत्री श्री स्टीफन हार्पर के साथ भारत ऑस्ट्रेलिया आर्थिक सहयोग और व्यापार समझौता (ईसीटीए) मनाया गया।

भारत व्यापार संघ द्वारा भारत ऑस्ट्रेलिया सामरिक गठबंधन के स्वागत में रात्रिमोज का आयोजन किया गया जो माननीय पूर्व ऑस्ट्रेलियाई प्रधान श्री टोनी एबॉट और माननीय पूर्व कनाडाई प्रधानमंत्री श्री स्टीफन हार्पर के सम्मान में आयोजित किया गया जिसमें 150 से अधिक शीर्ष भारतीय और ऑस्ट्रेलियाई उद्यमी और व्यापारिक नेता शामिल हुए।

विशिष्ट अतिथि श्री नवीन जिंदल (जिंदल समूह के अध्यक्ष) और श्री मनोज तिवारी (संसद सदस्य) भी उपस्थित रहे। 2 अप्रैल 2022 को, भारत और ऑस्ट्रेलिया ने एक व्यापक अंतरिम मुक्त व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किए थे जो कई वस्तुओं पर शून्य शुल्क व्यापार की अनुमति देता है।

आमतौर पर, भारत ऑस्ट्रेलिया से प्रमुख कच्चे माल और मध्यवर्ती आयात करता है और तैयार उत्पादों का निर्यात करता है। यह ऑटोमोबाइल, कपड़ा, जूते और चमड़े के उत्पादों, रल और आभूषण, खिलौने और प्लास्टिक उत्पादों के भारतीय निर्यात के लिए विशाल अवसरों को खोलता है।

माननीय श्री टोनी एबॉट ने दोनों देशों द्वारा विशेष रूप से भारत के माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी, एवं आस्ट्रेलिया माननीय प्रधान मंत्री श्री स्कॉट मॉरिसन, भारत के माननीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री पीयूष गोयल, माननीय व्यापार, पर्यटन मंत्री, द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की गयी।

माननीय श्री एबॉट की भूमिका मशीनरी में तेल डालने की थी ताकि वह काम कर सके | इस संबंध को बेहतर ढंग से विकसित करने की जरूरत है। हमें आपूर्ति श्रृंखला में चीन की जगह लेने की जरूरत है और भारत के पास इसके पर्याप्त साधन है।

माननीय श्री स्टीफन हार्पर ने इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर भारत और ऑस्ट्रेलिया को बधाई दी। उन्होंने भारत और कनाडा के मजबूत संबंधों की कामना की।

इस कार्यक्रम का आयोजन प्रमुख रूप से डॉ. जगविंदर सिंह विर्क (अध्यक्ष-भारत ऑस्ट्रेलिया रणनीतिक गठबंधन) द्वारा सुगम बनाया गया था और भारतीय व्यापार संघ के संस्थापक सदस्यों श्री प्रमोद शर्मा (प्रबंध ट्रस्टी - लक्ष्मी नारायण फाउंडेशन, संस्थापक और प्रमोटर-यूवी ग्रुप (यूवीएआरसी और यूवी स्पेशल) द्वारा किया गया।

इसमें सिचुएशन फंड), डॉ शेनमीत सिंह सिद्धू (आर्थिक सलाहकार, संस्थापक- ब्रेन ट्री आईएएस), श्री रमेश चंद्र अग्रवाल (प्रबंध निदेशक - मोहनी चाय), सीए राजेश शर्मा (आईसीएआई और आईसीएसआई के पूर्व केंद्रीय परिषद सदस्य, भेल के पूर्व निदेशक) , सीए इशांत जुनेजा (संस्थापक-रैज़े बिजनेस सॉल्यूशंस) आदि उपस्थित रहे।

भारत ऑस्ट्रेलिया सामरिक गठबंधन का भारत ऑस्ट्रेलिया व्यापार का समर्थन करने का एक लंबा, गौरवपूर्ण इतिहास रहा है।

भारत व्यापार संघ भारतीय उद्यमियों को उद्योगों और क्षेत्रों में विभिन्‍न देशों में सहक्रियाओं का पता लगाने में सहायता करता है। इस तरह की पहल भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था तक ले जाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाएगी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.