भारत 1971 में इस्तेमाल हुए सैन्य उपकरण बांग्लादेश को दान करेगा

भारत 1971 में इस्तेमाल हुए सैन्य उपकरण बांग्लादेश को दान करेगा

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की है कि भारत 1971 के मुक्ति संग्राम में देश में इस्तेमाल हुए सैन्य उपकरणों को बांग्लादेश के संग्रहालयों में प्रदर्शित करने के लिए दान करेगा।

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की है कि भारत 1971 के मुक्ति संग्राम में देश में इस्तेमाल हुए सैन्य उपकरणों को बांग्लादेश के संग्रहालयों में प्रदर्शित करने के लिए दान करेगा।

मोदी ने बांग्लादेश की अपनी दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा के अंतिम दिन शनिवार को ढाका में यह घोषणा की, जो कोविड-19 महामारी की शुरुआत के बाद से उनकी पहली विदेश यात्रा रही।

मोदी ने शनिवार शाम को बांग्लादेश की अपनी समकक्ष शेख हसीना से ढाका के आमने-सामने वार्ता के लिए मुलाकात की, जिसके बाद दोनों पक्षों ने पांच एमओयू पर हस्ताक्षर किए, आठ परियोजनाओं का शुभारंभ, उद्घाटन किया और 10 घोषणाएं कीं।

अपनी यात्रा के दौरान, उन्होंने भारतीय सशस्त्र बलों के शहीदों के सम्मान के लिए एक स्मारक का शिलान्यास भी किया, जो मुक्ति संग्राम के दौरान मारे गए थे।

यह ढाका के पास आशूगंज में बनाया जाएगा।

बंग्लादेश में यह पहला स्मारक है जो भारतीय शहीदों के स्ममान में है।

मोदी ने ढाका पहुंचकर बंगलाबंधु शेख मुजीबुर रहमान के जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में एक पर्व समारोह में भाग लिया, साथ ही बांग्लादेश की स्वतंत्रता की स्वर्ण जयंती पर मनाए जाने वाले समारोहों में भाग लिया।

आपसी समझ बढ़ाने के उद्देश्य से बांग्लादेश के अध्ययन को सुविधाजनक बनाने के लिए शनिवार शाम को भारतीय प्रधानमंत्री ने दिल्ली विश्वविद्यालय में बंगबंधु चेयर की घोषणा की।

श्यामनगर, सतखिरा में ऐतिहासिक जशोरेश्वरी मंदिर का दौरा करने के बाद, मोदी ने घोषणा की कि भारत जिले में सभी के लाभ के लिए सरकार के ग्रांट फंडिंग के तहत एक सामुदायिक हॉल-कम-साइक्लोन शेल्टर का निर्माण करेगा।

ओरकांडी में, मोदी ने घोषित की कि भारत बच्चों के लिए एक प्राथमिक स्कूल का निर्माण करेगा और भारत सरकार की फंडिंग के तहत लड़कियों के लिए एक मिडल स्कूल को अपग्रेड करेगा।

मोदी ने शनिवार रात ढाका से नई दिल्ली के लिए प्रस्थान किया।

विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमन ने उनकी दो दिवसीय बांग्लादेश यात्रा के दौरान बांग्लादेश में सभी यादगार पलों की तस्वीरों वाले एक एल्बम के साथ उन्हें विदा किया।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news