Rashi With her Mom
Rashi With her Mom
ताज़ातरीन

शारजाह में रहने वाली भारतीय किशोरी को भारत में फंसी मां का इंतजार

दुबई के इंडियन हाईस्कूल में पढ़ने वाली कक्षा पांच की छात्रा ने चिट्ठी में कहा है, "मुझे मेरी मां से मिलने में मदद करें। मैं उन्हें बहुत याद कर रही हूं। मैंने 59 दिनों से उन्हें नहीं देखा है।"

Yoyocial News

Yoyocial News

संयुक्त अरब अमीरात के शारजाह शहर में रहने वाली एक भारतीय नाबालिग लड़की, जो दो महीने से अपनी मां से अलग रह रही है, भारत में लॉकडाउन के कारण फंसी अपनी मां से मिलाने की गुहार लगाई है।

गल्फ न्यूज की शनिवार की खबर में कहा गया है, "नौ वर्षीय राशि ने एक पेंसिल स्केच दिखाया, जिसमें वह मां पूनम के साथ है। उसने अपने परिवार के पुनर्मिलन का चित्र बनाया है और अपनी इच्छा व्यक्त करने के लिए उसने एक भावुकतापूर्ण पत्र भी लिखा है।"

पूनम अपनी बीमार मां को देखने के लिए भारत आई थी, लेकिन कोरोनावायरस के प्रकोप के चलते सभी उड़ानें रद्द होने के कारण वहां फंस गई। बच्ची की लिखी चिट्ठी को पिता हरेश करमचंदानी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया है।

दुबई के इंडियन हाईस्कूल में पढ़ने वाली कक्षा पांच की छात्रा ने चिट्ठी में कहा है, "मुझे मेरी मां से मिलने में मदद करें। मैं उन्हें बहुत याद कर रही हूं। मैंने 59 दिनों से उन्हें नहीं देखा है।"

इलेक्ट्रिकल कंपनी में काम करने वाले हरेश ने गल्फ न्यूज को बताया कि पूनम 18 मार्च को अपनी बीमार मां को देखने मुंबई गई थी, जिनका 10 दिन बाद देहांत हो गया।

उन्होंने कहा, "पूनम अप्रैल की शुरुआत में वापस आने वाली थी, लेकिन कोरोनोवायरस महामारी की वजह से वह भारत में फंस गई। मैं बेटी राशि (9) और 15 वर्षीय बेटे कृष की देखभाल कर रहा हूं।"

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news