लॉकडाउन में इंदौर के व्यापारी ने शारजाह में फंसे 168 भारतीयों को भिजवाया स्वदेश
ताज़ातरीन

लॉकडाउन में इंदौर के व्यापारी ने शारजाह में फंसे 168 भारतीयों को भिजवाया स्वदेश

व्यापारी ने बताया कि हम फ्रेंड्स ऑफ मध्यप्रदेश के नाम से एक संगठन भी चलाते हैं। जब हमें पता चला कि लोग परेशान हैं तो हमने ऐसे लोग जो किराया नहीं दे सकते, उनसे किराया नहीं लिया।

Yoyocial News

Yoyocial News

मूल रूप से इंदौर के रहने वाले एक भारतीय ने शारजाह में फंसे भारतीयों के लिए एयरलिफ्ट फिल्म के अक्षय कुमार का किरदार वास्तविकता में निभा दिया। लॉकडाउन में वहां फंसे 168 लोगों को चार्टर्ड प्लेन के माध्यम से अहमदाबाद भेज दिया। इनमें से 50 लोग इंदौर के रहने वाले थे। इन लोगों में भी जो जरूरतमंद या मजदूर वर्ग के थे, उनका किराया इस इंदौरी व्यापारी ने चुका दिया।

प्लेन शनिवार रात 10:30 बजे अहमदाबाद उतरा। जानकारी के मुताबिक, इंदौर निवासी जितेंद्र मलतानी बीते कुछ सालों से दुबई में रहते हैं। जब उन्हें पता चला कि वंदे भारत मिशन के तहत केवल देश के प्रमुख शहरों दिल्ली और मुंबई के लिए फ्लाइट उपलब्ध है और मध्यप्रदेश के लोगों के लिए कोई सुविधा नहीं है, तो उन्होंने इन्हें भारत भेजने का निर्णय लिया।

मतलानी ने बताया कि मैं व्यापार के सिलसिले में कई सालों से दुबई में हूं। लेकिन वहां लोगों को परेशान देखा तो रहा नहीं गया। हमने भारतीय मुद्रा के हिसाब से 40 लाख रुपये में एक विमान बुक किया। जिसे भारत भेजने के लिए तमाम अनुमति ली। शनिवार रात यह विमान अहमदाबाद आ गया। इंदौर के रहने वाले लोगों को सड़क मार्ग से इंदौर भेजा जाएगा। दुबई से आने वाले लोगों में 100 से ज्यादा मप्र के विभिन्ना शहरों के हैं, जबकि 50 इंदौर के हैं।

मलतानी ने बताया कि हम फ्रेंड्स ऑफ मध्यप्रदेश के नाम से एक संगठन भी चलाते हैं। जब हमें पता चला कि लोग परेशान हैं तो हमने ऐसे लोग जो किराया नहीं दे सकते, उनसे किराया नहीं लिया। उन्हें अपने परिवार के पास भेजने का इंतजाम किया है। अगले सप्ताह हम शारजाह से बीच भी एक विमान का संचालन करेंगे।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news