इंटरनेशनल फ्लाइट्स की उड़ान 15 जुलाई तक थमी, कुछ चुनिंदा रूट्स पर मिल सकती है अनुमति
ताज़ातरीन

इंटरनेशनल फ्लाइट्स की उड़ान 15 जुलाई तक थमी, कुछ चुनिंदा रूट्स पर मिल सकती है अनुमति

पिछले सप्ताह ही सीविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि भारत जुलाई के महीने में अंतराष्ट्रीय फ्लाइट्स शुरू करने पर कोई फैसला लेगा. उन्होंने कहा था उस वक्त परिस्थितियों को देखते हुए इस पर कोई निर्णय लिया जाएगा.

Yoyocial News

Yoyocial News

देशभर में तबाही मचा रहे जानलेवा कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते मामलों के बीच नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि इंटरनेशनल फ्लाइट्स का संचालन 15 जुलाई तक के लिए सस्पेंड किया जा रहा है. सभी इंटरनेशनल फ्लाइट्स मार्च के अंतिम सप्ताह से ही कैंसिल हैं. हालांकि, घरेलू उड़ानों का परिचालन 25 मई से कुछ शर्तों के साथ शुरू कर दिया गया है.

इस बीच, केंद्र सरकार ने कुछ चुनिंदा रूट्स के लिए इंटरनेशनल फ्लाइट्स की अनुमति देने का फैसला किया है. उड्डयन मंत्रालय द्वारा जारी किए गये बयान के मुताबिक कुछ चुनिंदा रूट्स पर इंटरनेशल शेड्यूल फ्लाइट्स की अनुमति दी जा सकती है.

बता दें पिछले सप्ताह ही सीविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि भारत जुलाई के महीने में अंतराष्ट्रीय फ्लाइट्स शुरू करने पर कोई फैसला लेगा. उन्होंने कहा था उस वक्त परिस्थितियों को देखते हुए इस पर कोई निर्णय लिया जाएगा.

पुरी ने कहा था कि जब एक बार घरेलू फ्लाइट्स ऑपरेशन 50 से 55 प्रतिशत तक पहुंच जाएंगे तो हम अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर विचार करेंगे. बॉर्डर और एंट्री पर प्रतिबंध, क्वॉरंटीन की शर्तें आदि कुछ फैक्टर्स हैं, जिन्हें ध्यान में रखते हुए अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को लेकर फैसला लिया जाएगा. अमेरिका, ब्रिटेन, ब्राजील, यूएई, सिंगापुर पर एंट्री को लेकर शर्तें हैं. ये देश केवल अपने नागरिकों को ही आने दे रहे हैं.

उन्होंने कहा था कि हमारी अंतर्राष्ट्रीय हवाई सेवाएं शुरू करना इस बात पर भी निर्भर करेगा कि क्या अन्य देशों अपने यहां अंतर्राष्ट्रीय विमानों को आने की मंजूरी देते हैं या नहीं. हमारे पास केवल यही विकल्प है कि नियंत्रण के साथ इवैक्युएशन पर ही काम किया जाए. इसके तहत विदेशों में फंसे भारतीयों को वापस लाने का काम चल रहा है. अंतर्राष्ट्रीय विमानों को शुरू करने के​ लिए दोनों पक्षों को तैयार होना होगा.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news