निवेशकों ने लगाई मुहर, सर्वाधिक निवेश योग्य राज्य बना झारखण्ड

निवेशकों ने लगाई मुहर, सर्वाधिक निवेश योग्य राज्य बना झारखण्ड

मुख्य सचिव ने निवेशकों को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार समर्पण के साथ सभी समझौतों को धरातत्र पर उतारने हेतु प्रतिबद्ध है|

झारखण्ड की मुख्य सचिव श्रीमती राजबाला वर्मा ने कहा कि विभिन्‍न देशों के प्रतिनिधियों और उद्योग - व्यापार जगत के कप्तानों तथा केंद्र सरकार की सहभागिता ने साबित कर दिया कि झारखण्ड भारत का सर्वाधिक निवेश योग्य राज्य बन चुका है|

श्रीमती वर्मा आज मोमेंटम झारखण्ड वैश्विक निवेशक सम्मेलन के समापन समारोह में अतिथियों का स्वागत कर रही थीं|

श्रीमती वर्मा ने कहा कि दो दिवसीय मोमेंटम झारखण्ड के दौरान तीन लाख करोड़ रुपये से ज्यादा के निवेश समझौते होना और भारी तादाद में निवेशकों की सहभागिता ने यह साबित कर दिया कि झारखण्ड के विकास के सुपरिणाम शीघ्र धरातल पर दिखेंगे|

मुख्य सचिव ने निवेशकों को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार समर्पण के साथ सभी समझौतों को धरातत्र पर उतारने हेतु प्रतिबद्ध है| उन्होंने कहा कि मोमेंटम झारखण्ड की यह विशेषता रही कि मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने उन्हीं निवेश प्रस्तावों को ज्यादा वरीयता दी जिनके जरिये रोजगार के ज्यादा से ज्यादा अवसर पैदा किये जा सकते हैं|

मुख्यमंत्री युवा सशक्तिकरण के पक्षधर हैं और युवा शक्ति के विकास और रोजगार सृजन को हमारी सरकार प्राथमिकता देगी|

इस अवसर पर मोमेंटम झारखण्ड का रिपोर्ट काई प्रस्तुत करते हुए मुख्यमंत्री के सचिव श्री सुनील वर्णवाल ने जानकारी दी कि अनुमान से दो गुने कुल 11 हजार 20 प्रतिनिधियों ने झारखण्ड के प्रथम निवेशक सम्मलेन में भाग लिया| उन्होंने बताया कि भारत सरकार के कुल 12 मंत्रियों ने समारोह में उपस्थित होकर राज्य सरकार के विकासोन्मुखी प्रयासों पर मुहर लगाई।|

श्री वर्णवाल ने बताया कि इस निवेशक सम्मलेन में 3 लाख 10 हजार 287 करोड़ रुपये के निवेश के कुल 210 करार हुए जिनके धरातल पर उतरने से 6 लाख 3 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा।| उन्होंने बताया कि विभिन्‍न निवेश योग्य प्रक्षेत्रों पप सफल संगोष्ठियों का आयोजन किया गया जिसमे 101 वक्ताओं ने झारखण्ड में विकास की संभावनाओं की विवेचना की।|

श्री वर्णवाल ने मोमेंटम झारखण्ड के भागीदार देशों जापान, मंगोत्रिया, चेक गणराज्य एवं ट्यूनीशिया के राजदूतों की उपस्थिति और ऑस्ट्रेलिया की उच्चायुक्त की भागीदारी का उल्लेख करते हुए बताया कि मोमेंटम झारखण्ड में 600 विदेशी प्रतिनिधियों ने भागीदारी दर्ज कराई|

श्री वर्णवाल के मुताबिक़ आयोजन के दौरान विभिन्‍न क्षेत्रों में निवेश हेतु 210 एमओयू हुए और 470 बिजनेस टू गवर्नमेंट और 80 बिजनेस टू बिजनेस मीटिंग का सफल आयोजन हुआ|

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news