बेंगलुरू: मेडिकल में प्रवेश का वादा कर ISRO के वैज्ञानिक से ठगे 18 लाख रुपये

बेंगलुरू में एक शख्स द्वारा इसरो के वैज्ञानिक को उसकी बेटी के लिए मेडिकल सीट दिलाने का वादा कर 18 लाख रुपये ठगने का मामला सामने आया है।
बेंगलुरू: मेडिकल में प्रवेश का वादा कर ISRO के वैज्ञानिक से ठगे 18 लाख रुपये

बेंगलुरू में एक शख्स द्वारा इसरो के वैज्ञानिक को उसकी बेटी के लिए मेडिकल सीट दिलाने का वादा कर 18 लाख रुपये ठगने का मामला सामने आया है।

बेंगलुरु की उप्पेरपेट पुलिस ने इस सिलसिले में मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार, ठगी के शिकार 48 वर्षीय चिदानंद शिवप्पा मुगदुम, इसरो के साथ काम करने वाले वैज्ञानिक और मुंबई में सीजीएस कॉलोनी के निवासी हैं।

ठगी करने वाले की पहचान अरुण दास के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि वैज्ञानिक चिदानंद की बेटी एमबीबीएस की तैयारी कर रही है। दो महीने पहले आरोपी ने एक फोन कॉल के जरिए वैज्ञानिक से संपर्क किया और उसकी बेटी का बेंगलुरु में मेडिकल में एडमिशन दिलाने का वादा किया।

आरोपी अरुण दास दो बार वैज्ञानिक के घर भी गया और उसकी बेटी के शैक्षिक दस्तावेजों का सत्यापन किया था। पुलिस ने कहा कि उसने बेंगलुरू में बीजीएस ग्लोबल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में एडमिशन कराने का वादा किया था।

उसने 10 लाख कॉलेज फीस और 18 लाख रुपए डोनेशन की मांग की थी और पैसे लेकर बेंगलुरू आने को कहा था। वैज्ञानिक उसके जाल में फंसकर 12 नवंबर को अपनी बेटी और एक रिश्तेदार के साथ पैसे लेकर बेंगलुरु पहुंचे।

मुलाकात के बाद अरुण दास ने उनसे 18 लाख रुपए ले लिए। आरोपी पैसे लेकर यह कहकर चला गया था कि वह ट्रस्ट के बैंक खाते में डोनेशन की राशि जमा करा देगा और दाखिले के लिए वापस आ जाएगा।

जब आरोपी वापस नहीं लौटा तो पीड़ित ने उसे फोन करने की कोशिश की लेकिन उसका फोन स्विच ऑफ था। बाद में उन्हें ठगी का एहसास हुआ तो पुलिस से संपर्क किया।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news