बेहद खास है कार्तिक मास, इन बातों का पालन करने से होते है सभी सुख प्राप्त
ताज़ातरीन

बेहद खास है कार्तिक मास, इन बातों का पालन करने से होते है सभी सुख प्राप्त

कार्तिक मास में इन सात नियमों का पालन करने से मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति होती है और इस जीवन में भी सभी सुख प्राप्त होते हैं।

Yoyocial News

Yoyocial News

हिन्दू धर्म में कार्तिक मास सर्वश्रेष्ठ माना गया है। इस पूरे मास में कई व्रत-पूजन आते हैं। कार्तिक मास में हर मनुष्य को 7 नियमों का पालन जरूर करना चाहिए। आइए जानें क्या हैं ये नियम।

1. प्रतिदिन करें दीपदान :

कार्तिक मास में सबसे उत्त्म कार्य होता है शाम के समय मंदिर, तुलसी के पेड़, नदी, पोखर आदि में दीपदान करना। इससे बहुत ही पुण्य की प्राप्ति होती है।

2. तुलसी पूजा :

इस पूरे महीने में तुलसी पूजन करने का विशेष विधान होता है। इस मास में ही तुलसी विवाह भी आता है। शाम के समय तुलसी में दीपदान करना भी बहुत उत्तम होता है। कार्तिक में तुलसी पूजा का महत्व कई गुना माना गया है।

3. भूमि पर शयन करना :

कार्तिक मास में भूमि पर सोना चाहिए। मान्यता है कि भूमि पर सोने से मन में सात्विक भावना का विकास होता है और मानिसक विकार दूर होते हैं।

4. तेल लगाना वर्जित :

कार्तिक महीने में केवल एक बार नरक चतुर्दशी (कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी) के दिन ही शरीर पर तेल लगाने की छूट है। बाकी पूरे मास में तेल लगाना पूरी तरह से मना है।

5. दाल न खाना :

कार्तिक महीने में दहलन यानी कई तरह की दाल खाना मना है। खास कर उड़द, मूंग, मसूर, चना, मटर, राई आदि से परहेज करना चाहिए।

6. ब्रह्मचर्य का पालन :

कार्तिक मास में ब्रह्मचर्य का पालन अति आवश्यक बताया गया है। इसका पालन नहीं करने पर पति-पत्नी को दोष लगता है और इसके अशुभ फल भी प्राप्त होते हैं।

7. संयम रखना :

कार्तिक मास का व्रत करने वालों को तपस्वियों के समान व्यवहार करना चाहिए। बेहद संयमित जीवन जीना चाहिए। इस मास क्रोध, निंदा, उपहास या विवाद से बचना चाहिए।

कार्तिक मास में इन सात नियमों का पालन करने से मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति होती है और इस जीवन में भी सभी सुख प्राप्त होते हैं।

Hindi Calendar, kartik maas month

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news