आ गया है नया साल, जाने क्या-क्या बदलाव होनें वाले हैं आपके दैनिक जीवन में, बदल जाएंगे आज से ये नियम..

आ गया है नया साल, जाने क्या-क्या बदलाव होनें वाले हैं आपके दैनिक जीवन में, बदल जाएंगे आज से ये नियम..

इनमें GST, गैस सिलिंडर, इंश्योरेंस, चेक पेमेंट, कॉलिंग, व्हाट्सएप, गाड़ियों की कीमत आदि शामिल हैं। अगर आपने कुछ नियमों को नजरअंदाज किया तो इससे आपको नुकसान भी हो सकता है।

आज से नए साल की शुरुआत यानी 1 जनवरी, 2021 से आपकी रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़े कई नियम बदलने वाले हैं।

इनमें GST, गैस सिलिंडर, इंश्योरेंस, चेक पेमेंट, कॉलिंग, व्हाट्सएप, गाड़ियों की कीमत आदि शामिल हैं। अगर आपने कुछ नियमों को नजरअंदाज किया तो इससे आपको नुकसान भी हो सकता है।

आइए जानते हैं इन नियमों के बारे में..

GST रिटर्न के नियमों में बदलाव (changes in GST return rules) -

आज से करीब 94 लाख छोटे कारोबारियों को सरल, क्वाटरली गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) रिटर्न फाइलिंग सुविधा मिलेगी।

नए नियम के तहत, जिन कारोबारियों का टर्नओवर 5 करोड़ रुपये से कम है, उन्हें हर महीने रिटर्न दाखिल करने की जरूरत नहीं होगी, यानी छोटे व्यापारियों को जनवरी 2021 से सिर्फ 4 सेल्स रिटर्न फाइल करने होंगे।

अभी के नियम के अनुसार, कारोबारियों को मासिक आधार पर 12 रिटर्न (GSTR 3B) दाखिल करने होते हैं।

इसके अलावा 4 GSTR 1 भरना होता है। नया नियम लागू होने के बाद टैक्सपेयर्स को केवल 8 रिटर्न भरने होंगे। इनमें 4 GSTR 3B और 4 GSTR 1 रिटर्न भरना होगा।

चेक पेमेंट से जुड़े नियमों में बदलाव (Change in rules related to check payment) -

आज से चेक पेमेंट से जुड़े नियम बदल जाएंगे। बैंक 'Positive Pay System नाम की नई व्‍यवस्‍था लागू करने जा रहे हैं। इसके तहत 50 हजार रुपये या इससे अधिक पेमेंट पर कुछ जरूरी जानकारियों को दोबारा कन्फर्म करना होगा।

इसका मकसद चेक के जरिए होने वाली धोखाधड़ी पर लगाम लगाना है, यानी जो व्यक्ति चेक जारी करेगा, उन्हें इलेक्ट्रॉनिक तरीके से चेक की तारीख, लाभार्थी का नाम, प्राप्तकर्ता, पेमेंट की रकम और अकाउंट नंबर जैसी डिटेल्‍स के बारे में दोबारा जानकारी देनी होगी।

इस जानकारी को बैंक कर्मचारी क्रॉस चेक करेंगे और सब सही होने पर ही चेक क्‍लीयर किया जाएगा।

UPI पेमेंट पर देना होगा अधिक चार्ज (Third party UPI payment will be charged more) -

आज से पूरे देश में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (Unified Payment Interface) के जरिए किसी को भी पेमेंट करना महंगा साबित होगा। इसके लिए यूजर्स को अतिरिक्त चार्ज देना होगा।

नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के अनुसार, थर्ड पार्टी ऐप के ऊपर 30 फीसदी का कैप लगा दिया गया।

आसान शब्दों में कहें तो अब आपको Amazon Pay, Google Pay और PhonePay जैसी थर्ड पार्टी ऐप से लेन देन करने पर अतिरिक्त चार्ज देना होगा, हालांकि यह चार्ज Paytm को नहीं देना पडे़गा।

इन स्मार्टफोन्स में बंद हो जाएगा WhatsApp (WhatsApp will not work in these smartphones) -

1 जनवरी, 2021 से कुछ स्मार्टफोन में WhatsApp काम करना बंद कर देगा। इसमें Android और iPhone दोनों शामिल हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक iOS 9 और Android 4.0.3 ऑपरेटिंग सिस्टम से भी पुराने वर्जन पर चलने वाले स्मार्टफोन्स पर WhatsApp काम नहीं करेगा।

वहीं iPhone 4 या इससे पुराने आईफोन से भी WhatsApp का सपोर्ट खत्म किया जा सकता है, हालांकि इससे आगले वर्जन के आईफोन यानी iPhone 4s, iPhone 5s, iPhone 5C, iPhone 6, iPhone 6s में अगर पुराना सॉफ्टवेयर है तो इन्हें अपडेट किया जा सकता है।

Mutual Fund निवेश के लिए बदल जाएंगे नियम (Mutual Fund Investment will rules change) -

निवेशकों के हितों को देखते हुए मार्केट रेगुलेटर सेबी ने म्यूचुअल फंड के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं, जिससे इनमें रिस्क को कम किया जा सके।

SEBI ने मल्टीकैप म्यूचुअल फंड के लिए असेट अलोकेशन के नियमों में बदलाव किया है। नए नियमों के मुताबिक अब फंड्स का 75 फीसदी हिस्सा इक्विटी में निवेश करना जरूरी होगा, जो कि अभी न्यूनतम 65 फीसदी है।

SEBI के नए नियमों के मुताबिक मल्टी कैप फंड्स के स्ट्रक्चर में बदलाव होगा। फंडों को मिडकैप और स्मॉलकैप में 25-25 फीसदी निवेश करना जरूरी होगा। वहीं, 25 फीसदी लार्ज कैप में लगाना होगा. पहले फंड मैनेजर्स अपनी मनमर्जी के हिसाब से आवंटन करते थे। अभी मल्टीकैप में लार्जकैप का वेटेज ज्यादा रहता है. 1 जनवरी 2021 से ये नया नियम लागू होगा।

महंगी हो जाएंगी कारें (Cars will become more expensive) -

नए साल में कार खरीदना काफी महंगा हो जाएगा, क्योंकि कंपनियां जनवरी से कारों की कीमत में इजाफा करने जा रही हैं। Maruti Suzuki, Ford India और Kia Motors 1 जनवरी 2021 से गाड़ियों की कीमत बढ़ाने वाली हैं।

मारुति और फोर्ड ने तो जनवरी से गाड़ियां महंगी करने का ऐलान भी कर दिया है। कंपनी का कहना है कि कई तरह के कच्चे माल की कीमत बढ़ जाने की वजह से उसकी लागत पर दबाव पड़ा है, इसलिए रेट बढ़ाने को मजबूर होना पड़ रहा है।

कम प्रीमियम में 1 जनवरी से खरीद सकेंगे टर्म प्लान (you will be able to buy term plans for less premium) -

1 जनवरी, 2021 से सभी बीमा कंपनियां ‘सरल जीवन बीमा पॉलिसी’ पेश करने वाली हैं. इसमें आप कम प्रीमियम पर भी टर्म प्लान खरीद पाएंगे।

कम आय वर्ग के लोगों को इससे बहुत फायदा होगा। इसके साथ ही सभी बीमा कंपनियों की पॉलिसी में शर्तों और कवर की राशि एक समान होगी।

सरल जीवन बीमा 18 से 65 वर्ष के लोग खरीद सकेंगे और पॉलिसी 5 लाख से 25 लाख रुपये तक (50 हजार के गुणक में) की रहेगी।

बता दें कि IRDAI ने बीमा कंपनियों को आरोग्य संजीवनी नामक स्टैंडर्ड रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान पेश करने के बाद एक स्टैंडर्ड टर्म लाइफ इंश्योरेंस पेश करने का निर्देश दिया था।

फटाफट मिलेगा बिजली कनेक्शन (Electricity connection will be available immediately) -

नए नियमों के अनुसार, बिजली वितरण कंपनियों को तय अवधि के अंदर उपभोक्ताओं को सेवाएं उपलब्ध करानी होंगी। ऐसा करने में अगर वो नाकाम रहती हैं तो उनसे उपभोक्ता जुर्माना वसूल सकता है। नियमों के मसौदे को कानून मंत्रालय को भेजा गया है।

मंजूरी मिलने के बाद नया कनेक्शन लेने के लिए उपभोक्ताओं को ज्यादा कागजी कार्यवाही की जरूरत नहीं होगी।

कंपनियों को शहरी क्षेत्र में सात दिन, नगर पालिका क्षेत्र में 15 और ग्रामीण क्षेत्रों में एक महीने के अंदर बिजली कनेक्शन देना होगा।

लैंडलाइन से मोबाइल पर कॉल पहले जीरो लगाने के बाद संभव (Call from landline to mobile is possible after first zero) -

देशभर में लैंडलाइन से मोबाइल फोन पर कॉल करने के लिए अब एक जनवरी से नंबर से पहले शून्य लगाना जरूरी होगा।

TRAI ने इस तरह के कॉल के लिए 29 मई 2020 को नंबर से पहले ‘शून्य’(0) लगाने की सिफारिश की थी। टेलीकॉम कंपनियों को और ज्यादा नंबर बनाने में मदद मिलेगी।

डायल करने के तरीके में इस बदलाव से दूरसंचार कंपनियों को मोबाइल सेवाओं के लिए 254.4 करोड़ अतिरिक्त नंबर तैयार करने की सुविधा मिलेगी। यह भविष्य की जरूरतों को पूरा करने में मदद करेगी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news