लीबिया ने दिवंगत नेता गद्दाफी के बेटे को रिहा किया

अटॉर्नी जनरल के कार्यालय के एक सूत्र ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया कि सादी पर 2005 में एक फुटबॉल खिलाड़ी और लीबिया की राष्ट्रीय टीम के कोच की हत्या में कथित संलिप्तता के आरोप में मुकदमा चल रहा था। उस अब रिहा कर दिया गया है।
लीबिया ने दिवंगत नेता गद्दाफी के बेटे को रिहा किया

लीबिया के अधिकारियों ने देश के दिवंगत नेता मुअम्मर गद्दाफी के बेटे सादी गद्दाफी को रिहा कर दिया है। अटॉर्नी जनरल के कार्यालय के एक सूत्र ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया कि सादी पर 2005 में एक फुटबॉल खिलाड़ी और लीबिया की राष्ट्रीय टीम के कोच की हत्या में कथित संलिप्तता के आरोप में मुकदमा चल रहा था। उस अब रिहा कर दिया गया है।

उन्हें अप्रैल 2018 में इस मामले में बरी कर दिया गया था।

स्थानीय मीडिया के अनुसार, 27 वर्षीय सादी अपनी रिहाई के तुरंत बाद तुर्की के लिए रवाना हो गए, और अपने परिवार के कुछ सदस्यों के साथ मिस्र जाने की योजना बना रहे है।

लीबिया में 2011 के विद्रोह के दौरान, सादी नाइजर भाग गया था, लेकिन उसने तीन साल बाद प्रत्यर्पित किया गया और तब से त्रिपोली में कैद था।

लीबिया के अधिकारियों के अनुसार, नाइजर ने पहले उसे मानवीय कारणों के लिए शरण दी, लेकिन 2014 में सादी को लीबिया को सौंप दिया।

दिवंगत नेता मुअम्मर गद्दाफी के शासन के पतन के बाद से, लीबिया असुरक्षा और अराजकता का शिकार हो रहा है।

राजनीतिक विभाजन के वर्षों के बाद फरवरी में एक एकता सरकार और एक प्रेसीडेंसी परिषद के एक नए कार्यकारी प्राधिकरण की नियुक्ति के बावजूद, लीबिया की सुरक्षा स्थिति कमजोर बनी हुई है, क्योंकि देश के विभिन्न हिस्सों में सुरक्षा उल्लंघन और अपहरण अभी भी होते हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news