देश के इन राज्यों में सबसे ज्यादा उड़ाई गई लॉकडाउन की धज्जियां
ताज़ातरीन

देश के इन राज्यों में सबसे ज्यादा उड़ाई गई लॉकडाउन की धज्जियां

सबसे पहले तो बीजेपी के विधायकों ने माहौल बिगाड़ा, कभी जन्मदिन मनाने के नाम पर नियम तोड़ा तो कभी शादी-विवाह के नाम पर इसका माखौल उड़ाया गया। इन लोगों से जब इसके बारे में पूछा गया तो सभी ने अपनी-अपनी सफाई पेश कर दी, मगर गलती किसी ने नहीं मानी

Yoyocial News

Yoyocial News

दुनियाभर में फैले घातक कोरोना वायरस की वजह से जहां एक तरफ पीएम नरेंद्र मोदी ने देश में लॉकडाउन की घोषणा की, लोगों से उनके घर में रहने अपील की तो दूसरी तरफ देश के इन राज्यों में बेफिक्र होकर पूरे लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाई गईं। सबसे पहले तो बीजेपी के विधायकों ने माहौल बिगाड़ा, कभी जन्मदिन मनाने के नाम पर नियम तोड़ा तो कभी शादी-विवाह के नाम पर इसका माखौल उड़ाया गया। इन लोगों से जब इसके बारे में पूछा गया तो सभी ने अपनी-अपनी सफाई पेश कर दी, मगर गलती किसी ने नहीं मानी।

इसी वजह से अब कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। इसमें कर्नाटक पहले नंबर पर है। यहां कभी धार्मिक आस्था के नाम पर सोशल डिस्टेंसिंग का नियम तोड़ा गया तो कभी बड़े नेता के बेटे की शादी और बर्थडे पार्टी के नाम पर।

कर्नाटक स्थित रामनगर के कोलागोंडनहल्ली गांव में गुरुवार को आयोजित एक मेले में बड़ी संख्या में लोग जमा हुए और सोशल डिस्टेंसिंग के नियम की धज्जियां उड़ाई गई। बताया गया कि पंचायत विकास मंत्री एसी कालमट्ट से इस सामूहिक आयोजन की अनुमति ली गई थी मगर जब तहसीलदार से इस सामूहिक आयोजन के बारे में सूचना मिली तो रामनगर के डिप्टी कमिश्नर ने तहसीलदार को सस्पेंड कर दिया। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश भर में लॉकडाउन जारी है जिसके तहत तमाम सामूहिक आयोजनों को निलंबित किया गया है।

इससे पहले कर्नाटक के कलबुर्गी जिले में सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन को ताक पर रखकर सैकड़ों लोग एक मेले में शामिल हुए थे। जिले में सिद्धलिंगेश्वर मेला लॉकडाउन के बावजूद आयोजित हुआ। चित्तपुर तालुक में आयोजित मेले में सैकड़ों लोग शामिल हुए। यहां एक रथ को खींचते हुए लोगों को देखा गया। इस बीच यहां के लोकल बीजेपी नेता ने मेले के आयोजन का पूरा समर्थन किया।

कर्नाटक के रामनगर जिले के एक मंदिर में भी लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन देखने को मिला। यहां रामनगर जिले के कनकापुरा तालुक के कुलवंदनाहल्ली गांव में मरममा देवी के मंदिर में मेले का आयोजन हुआ। इस मेले में सैकड़ों की संख्या में लोग शामिल हुए मगर किसी ने न तो मास्क पहना ना ही सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते दिखे। मेले के लिए कोई अनुमति नहीं ली गई थी।

कोलागोंडनहल्ली गांव
कोलागोंडनहल्ली गांव
कलबुर्गी
कलबुर्गी

बेंगलुरु में पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की बेटे निखिल गौड़ा के बेटे की शादी में भी इन नियमों की धज्जियां उड़ाई गई। उनके बेटे की शादी कर्नाटक के रमांगारा जिले के बिदादी के पास एक फार्महाउस में रेवती के साथ हुई थी। यहां भी काफी संख्या में लोग शामिल हुए थे मगर किसी के चेहरे पर मास्क नहीं था ना ही सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन दिखा था।

इस बारे में जब उप मुख्यमंत्री सी.एन. अश्वथ नारायण से पूछा गया था तो उन्होंने बताया था कि इसके बारे में जिले के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक से इसकी जांच कराने के लिए कहा था। इस समारोह में परिवार के अलावा लगभग 100 लोग शामिल हुए थे।

कर्नाटक के तुमकुर से बीजेपी के विधायक एम जयराम ने अपने जन्मदिन पर बिरयानी की पार्टी का आयोजन किया, इसमें उन्होंने शाही अंदाज में समर्थकों को बिरयानी बांटी। उनकी बिरयानी पार्टी में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। इस दौरान लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं हुआ। सोशल डिस्टेंसिंग तो कहीं दिखी ही नहीं।

एचडी कुमारस्वामी के बेटे की शादी
एचडी कुमारस्वामी के बेटे की शादी
बीजेपी विधायक एम जयराम जन्मदिन
बीजेपी विधायक एम जयराम जन्मदिन

ब्रह्मलीन शोभन सरकार श्री 1008 विरक्तानंद जी महाराज की जल समाधि के दौरान लॉकडाउन का उल्लंघन करके जुटी हजारों की भीड़ के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। इसे लेकर तीन एफआइआर चौबेपुर थाने में दर्ज की गईं। इसमें 4,100 अज्ञात लोगों को आरोपित बनाया गया है। एक मुकदमा कानपुर देहात के शिवली थाने में दर्ज हुआ है। इसमें 100 अज्ञात भक्तों को आरोपित बनाया गया है।

दरअसल, शोभन सरकार बुधवार की सुबह ब्रह्मलीन हो गए थे। इसकी सूचना मिलते ही उनके आश्रम में भक्तों की भारी भीड़ जमा हो गई। चौबेपुर के सुनौढ़ा घाट तक गई अंतिम यात्रा में भी हजारों लोग शामिल हुए। इस दौरान शारीरिक दूरी के नियमों का पालन नहीं किया गया। कानपुर देहात और कानपुर नगर जिला प्रशासन और पुलिस को इस बात का पता तो था कि भीड़ हजारों में जुटेगी, लेकिन किसी ने उसे रोकने का प्रयास नहीं किया।

मध्य प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान जैन मुनि प्रमाण सागर जी के आगमन पर धार्मिक आस्थाएं भारी पड़ी। मध्य प्रदेश के सागर जिले में भारी संख्या में श्रद्धालुओं ने जैन मुनि प्रमाण सागर महाराज की अगवानी और पूजा-आरती की। लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते हुए लोग एक जगह जमा हुए। इस दौरान उन्होंने चेहरे पर मास्क भी नहीं लगाए थे। यहां जमा हुई भीड़ का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, उसके बाद प्रशासन हरकत में आया। पुलिस ने इसकी जांच कराकर मामले दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

ब्रह्मलीन शोभन सरकार श्री 1008 विरक्तानंद जी महाराज की जल समाधि
ब्रह्मलीन शोभन सरकार श्री 1008 विरक्तानंद जी महाराज की जल समाधि
मध्य प्रदेश में जैन मुनि प्रमाण सागर
मध्य प्रदेश में जैन मुनि प्रमाण सागर

महाराष्ट्र में बीजेपी विधायक दादाराव केचे के जन्मदिन पर सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन के नियम तोड़े गए। विधायक ने अपना जन्मदिन मनाने के लिे लोगों को आमंत्रित किया था, मगर इसमें किसी ने न तो अपने चेहरे पर मास्क लगाया ना ही सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन दिखा, इसके बारे में शिकायत मिलने पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया और नोटिस भी भेजा गया है। स्थानीय उप-विभागीय अधिकारी ने बताया कि केचे को विभिन्न प्रावधानों के तहत नोटिस जारी किया गया है। तस्वीरें और वीडियो देखने से ये पता चला कि इस दौरान 200 से अधिक लोग एक जगह जमा हो गए थे मगर किसी ने नियम का पालन नहीं किया।

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कोरोना वायरस को भगाने के लिए "गो कोरोना, गो" मंत्र दिया था। इस मंत्र के वायरल होने के बाद तेलंगाना से बीजेपी के अकेले विधायक राजा सिंह ने एक विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया, जिसमें इसी तरह का नारा लगाया गया था। विधायक ने अपने समर्थकों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर बिजली की रोशनी और लाइट दीयों, मोमबत्तियों या फ्लैश लाइट को बंद करने के जवाब में मशाल जलाई। राजा सिंह और उनके समर्थक हाथों में मशालें पकड़े हुए थे। ये सभी लोग गो कोरोना गो के नारे लगा रहे थे मगर किसी के चेहरे पर मास्क नहीं था, सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया गया था।

महाराष्ट्र बीजेपी विधायक दादाराव केचे
महाराष्ट्र बीजेपी विधायक दादाराव केचे
तेलंगाना बीजेपी विधायक राजा सिंह
तेलंगाना बीजेपी विधायक राजा सिंह

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news