दिल्ली की नई मुसीबत, गुरुग्राम से पलवल की तरफ बढ़ा टिड्डी दल, 'आप' सरकार ने बुलाई आपातबैठक
ताज़ातरीन

दिल्ली की नई मुसीबत, गुरुग्राम से पलवल की तरफ बढ़ा टिड्डी दल, 'आप' सरकार ने बुलाई आपातबैठक

वनस्पति संरक्षण, संगरोध एवं संग्रह निदेशालय में पदस्थापित उपनिदेशक डॉ. के. एल. गुर्जर ने शनिवार को IANS को बताया कि टिड्डियां बीती रात पहली बार हरियाणा पहुंची हैं और दिल्ली के आसपास के इलाकों में इसका प्रकोप बना हुआ है।

Yoyocial News

Yoyocial News

देश में एक तरफ खरीफ फसलों की बुवाई जोर पकड़ चुकी है, वहीं दूसरी तरफ हरियाली का दुश्मन टिड्डियों का आतंक कम नहीं हो रहा है। हरियाणा में शुक्रवार की रात टिड्डी दल पहुंचा और जिस तरह आकाश में मंडरा रहा है, किसी भी समय देश की राजधानी दिल्ली पर भी यह धावा बोल सकता है।

टिड्डियों के खतरे को देखते हुए दिल्ली सरकार के विकास मंत्री गोपाल राय ने इमरजेंसी बैठक बुलाई है. बैठक में विकास सचिव, डिविजनल कमिश्नर, डायरेक्टर एग्रीकल्चर, डीएम साउथ दिल्ली, डीएम वेस्ट दिल्ली मौजूद रहेंगे. बैठक के बाद सरकार एडवाइजरी जारी करेगी.

इसके अलावा दिल्ली से सटे नोएडा में भी टिड्डी दल का खतरा मंडरा रहा है. टिड्डी दल के घुसने की संभावना को लेकर नोएडा में भी 4 टीम गठित की गई हैं.

गुरुग्राम में वनस्पति संरक्षण, संगरोध एवं संग्रह निदेशालय में पदस्थापित उपनिदेशक डॉ. के. एल. गुर्जर ने शनिवार को IANS को बताया कि टिड्डियां बीती रात पहली बार हरियाणा पहुंची हैं और दिल्ली के आसपास के इलाकों में इसका प्रकोप बना हुआ है।

दिल्ली पर धावा बोलने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि इस समय टिड्डियां पलवल की तरफ बढ़ रही हैं और हवा के रुख के अनुसार ये गमन करती हैं। इसलिए दिल्ली की तरफ भी बढ़ सकती हैं।

हरियाणा के गुरुग्राम और रेवाड़ी में इस समय टिड्डियों का प्रकोप बना हुआ है। उन्होंने बताया कि टिड्डियों का प्रकोप इस समय राजस्थान और मध्यप्रदेश में अधिक है, जबकि छोटे-छोटे दल बिहार के रोहतास और उत्तर प्रदेश के वाराणसी व जौनपुर तक पहुंच चुके हैं।

केंद्रिय कृषि मंत्रालय ने की रिपोर्ट के अनुसार, 21 जून 2020 तक राजस्थान, पंजाब, गुजरात, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के 84 जिले अब तक टिड्डियों की चपेट में आ चुके हैं जहां 114,026 हेक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण किया गया है।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news