विशेषाधिकार हनन के मामले में राहुल गांधी को भेजा गया नोटिस, लोकसभा सचिवालय ने 15 फरवरी तक मांगा जवाब

भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया गया था।
विशेषाधिकार हनन के मामले में राहुल गांधी को भेजा गया नोटिस, लोकसभा सचिवालय ने 15 फरवरी तक मांगा जवाब

लोकसभा सचिवालय ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी से जवाब मांगा है। दरअसल, 7 फरवरी को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान 'भ्रामक, अपमानजनक, असंसदीय और भड़काऊ बयान' देने के लिए राहुल गांधी के खिलाफ भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और प्रल्हाद जोशी ने विशेषाधिकार हनन को लेकर लोकसभा सचिवालय को पत्र लिखा था। अब उसी पत्र के संदर्भ में लोकसभा सचिवालय ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी से जवाब मांगा है।

क्या है मामला?
भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया गया था। इस पर सचिवालय ने 10 फरवरी को राहुल गांधी को एक पत्र लिखकर अपना जवाब 15 फरवरी तक लोकसभा अध्यक्ष के विचारार्थ पेश करने को कहा है।

राहुल के बयान पर जताई थी आपत्ति
इससे पहले लोकसभा में मंगलवार को 'राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव' पर चर्चा के दौरान राहुल गांधी के भाषण के बाद निशिकांत दुबे और प्रह्लाद जोशी ने उनके खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया था। गांधी ने हिंडनबर्ग-अदाणी के मुद्दे पर टिप्पणी की थी।

टिप्पणियों को सदन की कार्यवाही से हटा दिया था
दोनों भाजपा नेताओं ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को भेजे अपने नोटिस में आरोप लगाया है कि गांधी की टिप्पणी निराधार थी और उन्होंने ‘घृणित, असंसदीय और अपमानजनक’ आरोप लगाए। राहुल गांधी की ओर से की गई कई टिप्पणियों को अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही से हटा दिया था।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news