महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी से गठबंधन के बाद बोलीं ममता, गोवा से शुरू होगा भाजपा का सूर्यास्त

गोवा में महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के साथ अपनी पार्टी के गठबंधन से उत्साहित पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी का सूर्यास्त गोवा से शुरू होगा।
महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी से गठबंधन के बाद बोलीं ममता, गोवा से शुरू होगा भाजपा का सूर्यास्त

गोवा में महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के साथ अपनी पार्टी के गठबंधन से उत्साहित पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी का सूर्यास्त गोवा से शुरू होगा। गोवा में चुनाव 2022 की शुरुआत में होगा।

ममता ने क्षेत्रीय राजनीतिक संगठन के साथ तृणमूल कांग्रेस के गठबंधन की औपचारिक रूप से घोषणा पणजी के पास एक जनसभा को संबोधित करते हुए की। उन्होंने चुनाव से पहले मुद्दों को सांप्रदायिक बनाने की कोशिश करने के लिए भाजपा की आलोचना की। हालांकि देश में मुद्रास्फीति और आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि जैसे प्रमुख मुद्दों पर चुप्पी साधे रहीं।

ममता ने जनता से कहा, गोवा भारत है, यह मत सोचो कि गोवा बहुत छोटा है। गोवा से सूर्योदय होता है। जब गोवा मुस्कुराता है, तो भारत मुस्कुराता है। मगर गोवा से भाजपा का सूर्यास्त शुरू होगा, यूपी, पंजाब से.. तब पूरे देश से।

उन्होंने कहा, गोवा में एक नई सुबह की शुरुआत करने के लिए हमें दिल्ली से दादागीरी को ना कहना होगा। भाजपा को ना कहें। केवल तृणमूल और एमजीपी।

चुनाव से पहले माहौल को सांप्रदायिक बनाने की कोशिश करने के लिए भाजपा की आलोचना करते हुए ममता ने कहा, हिंदू, मुस्लिम बयानबाजी केवल चुनावों के दौरान ही की जाती है। दंगे केवल चुनाव के दौरान ही होते हैं। लेकिन चुनाव के बाद शव गंगा में बहते हैं। इसे कोई याद नहीं रखता।

उन्होंने मूल्यवृद्धि के साथ-साथ लखीमपुर खीरी की घटना जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर भाजपा की चुप्पी पर भी सवाल उठाया, जिसमें किसानों को एक वाहन से कुचल दिया गया था, जिसमें एक केंद्रीय मंत्री का बेटा मुख्य आरोपी है।

ममता ने कहा, भाजपा के पास एक मानक कथन है। वे वास्तविक मुद्दों के बारे में नहीं बोलते। आपने (भाजपा) कितनी बार पेट्रोल की कीमत के बारे में आवाज उठाई है? आपने कितनी बार डीजल की कीमत का मुद्दा उठाया है? लोगों को कितनी बार नोटबंदी के कारण उत्पीड़न का सामना करना पड़ा।

उन्होंने सवाल किया, आपने गोवा और भारत में क्या किया है? अब आप रेलवे को निशाना बना रहे हैं। सार्वजनिक क्षेत्र को अब बंद किया जा रहा है। भाजपा के मंत्री के बेटे ने लखीमपुर खीरी में किसानों को रौंदा। एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंप दी है और कहा है कि घटना पूर्व नियोजित थी। क्या यूपी के मंत्री को इस्तीफा नहीं देना चाहिए? क्या गृहमंत्री को इस्तीफा नहीं देना चाहिए? क्या पीएम को इस बारे में नहीं बोलना चाहिए?

ममता ने कहा, उन्होंने (भाजपा ने) देश को तबाह कर दिया है। एलपीजी की कीमत क्या है? पहले वे उज्ज्वला के बारे में बात करते थे। लेकिन चुनाव के बाद उज्ज्वला की कोई बात नहीं होती है। उन्होंने महिलाओं के लिए क्या किया? बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का बजट कितना था? 100 करोड़ रुपये। योजना के लिए कोई पैसा नहीं है, क्योंकि सारा पैसा विज्ञापन पर खर्च किया गया।

उन्होंने अपनी हिंदू साख पर सवाल उठाने के लिए सत्तारूढ़ भाजपा की आलोचना करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में, यहां तक कि पुरोहित (मंदिर के पुजारियों) को भी पेंशन दी जाती है, और पूछा कि क्या भाजपा पार्टी द्वारा शासित राज्यों में पुजारियों को पेंशन देती है?

ममता ने कहा, भाजपा का काम प्रमाणपत्र देना है, मैं चाहे हिंदू या मुस्लिम या सिख या ईसाई हूं, पूछने वाले आप हैं कौन? मेरे पिता और मां ने मुझे मेरा नाम दिया। मुझे यह कहते हुए शर्म आती है कि अगर कोई मुझसे पूछता है कि क्या मैं हिंदू या मुस्लिम हूं या ब्राह्मण या कायस्थ या आदिवासी.. मैं एक इंसान हूं।

तृणमूल प्रमुख ने कहा, बंगाल में एक लाख से अधिक जगह दुर्गा पूजा होती है। हमने प्रत्येक (आयोजन) क्लब को 50,000 रुपये दिए। क्या भाजपा ने किसी को यह पेशकश की है? यदि आप साबित कर दें कि मैं गलत कह रही हूं, तो मैं अपने पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हूं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news