जापान कालीन मेले में मिर्जापुर के उत्पाद अपनी चमक बिखेरेंगे
ताज़ातरीन

जापान कालीन मेले में मिर्जापुर के उत्पाद अपनी चमक बिखेरेंगे

जापान में साल 2021 में आयोजित होने वाले कालीन मेले के लिए मिर्जापुर के फुटमेट और वॉलहैंगिंग को चुना गया है। 'गरीब प्रेरणा स्वयं सहायता समूह' की महिलाओं की ओर से तैयार किए गए फुटमैट व वॉलहैंग जापानियों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं।

Yoyocial News

Yoyocial News

उत्तरप्रदेश के मिजार्पुर में स्थित खजूरी गांव की महिलाओं द्वारा तैयार किए गए वॉलहैंगिंग और फुटमैट अब अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर अपनी चमक बिखेरेंगे। जापान में साल 2021 में आयोजित होने वाले कालीन मेले के लिए मिर्जापुर के फुटमेट और वॉलहैंगिंग को चुना गया है। 'गरीब प्रेरणा स्वयं सहायता समूह' की महिलाओं की ओर से तैयार किए गए फुटमैट व वॉलहैंग जापानियों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। यही कारण है कि अगले साल विदेश में लगने वाले हस्तनिर्मित कालीन मेले में यहां के उत्पाद नजर आएंगे।

जापान में आयोजित होने वाले मेले में समूह की महिलाओं को आमंत्रित किया गया है जो यूपी के उत्पादों का लोहा विदेशों में मनवाएंगी।

गरीब प्रेरणा स्वयं सहायता समूह की संचालिका अफसाना बेगम ने बताया, "समूह की महिलाएं प्रतिवर्ष दो से ढाई लाख रुपए कमा लेती हैं। महिलाओं ने वाल हैंगिंग, फूट मेट्स और शो पीस को पहले ही पूरे राज्य में बेचना शुरू कर दिया है।"

यूपी सरकार द्वारा शुरू की गई ओडीओपी योजना के तहत गरीब प्रेरणा स्वयं सहायता समूह की महिलाएं ही नहीं बल्कि ताज व आजाद प्रेरणा समूह की महिलाओं ने भी अब वॉलहैंग, फुटमैट शोपीस व हस्तनिर्मित कलीन की बुनाई कर व्यापारियों को आपूर्ति शुरू कर रही हैं।

जिला मिशन के निदेशक रमेश प्रियदर्शी ने बताया, "हस्तशिल्प उत्पाद के स्थानीय बुनकर सदियों पुरानी विरासत को आगे बढ़ा रहे हैं। हम लगातार विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से इन महिलाओं को एक मंच प्रदान करने में लगे हुए हैं। न केवल राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत समूह ने खुद को आर्थिक रूप से सशक्त बना लिया है, बल्कि कालीन व्यवसाय को भी काफी बढ़ावा दिया है।"

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news