हत्यारा 19 साल तक करता रहा पुलिस की नौकरी, पुलिस को ही खबर न हुई
murderer became police officer

हत्यारा 19 साल तक करता रहा पुलिस की नौकरी, पुलिस को ही खबर न हुई

उत्तराखंड में हत्या का एक आरोपी 19 साल तक पुलिस में नौकरी करता रहा, लेकिन किसी को भनक तक नहीं लगी कि वह अपराधी है. इस बीच उत्तराखंड के कई जिलों में उसका ट्रांसफर हुआ और वह घूम-घूमकर नौकरी करता रहा.

किसी भी सरकारी नौकरी में होने के लिए ये जरूरी है कि व्यक्ति के ऊपर किसी तरह का केस दर्ज न हो और उस पर किसी तरह की कानूनी कार्रवाई न हुई हो. ऐसे में कोई पुलिसकर्मी अगर ऐसा पकड़ में आ जाए, जिसपर कोई छो मोटे नहीं, बल्कि हत्या का आरोप है. उत्तराखंड में एक ऐसी ही घटना सामने आई है.

उत्तराखंड में हत्या का एक आरोपी 19 साल तक पुलिस में नौकरी करता रहा, लेकिन किसी को भनक तक नहीं लगी कि वह अपराधी है. इस बीच उत्तराखंड के कई जिलों में उसका तबादला हुआ और वह कांस्टेबल की सरकारी नौकरी करता रहा. इस पूरे मामले का खुलासा तब हुआ, जब बरेली की एक कोर्ट से आरोपी को सजा सुनाई गई.

बरेली में वर्ष 1997 में हत्या के एक मामले में मुकेश कुमार नाम का शख्स आरोपी था. खबरों के अनुसार पंतनगर पुलिस थाना में मुकेश कुमार के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज था. पंतनगर के एसएचओ अशोक कुमार ने बताया कि हत्याकांड में मामला दर्ज होने के बाद भी उसने साल 2001 में पुलिस में भर्ती के लिए आवेदन किया. इसके बाद परीक्षा में उसका चयन भी हो गया, क्योंकि उसने अपने मूल पते की जगह शहदौरा किच्छा का पता भरा.

पंतनगर के एसएचओ अशोक कुमार ने बताया कि वर्तमान में वह अल्मोड़ा में तैनात था. कोर्ट से उम्रकैद की सजा होने के बाद इस पूरे मामले का खुलासा हुआ. अब पूरे मामले की जांच की जा रही है. जांच पूरी होने के बाद मुकेश कुमार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि करीब 22 साल पहले मुकेश पर हत्या का आरोप लगा था. इस राज को छुपाकर वह 19 साल तक नौकरी करता रहा. कुछ दिनों पहले बरेली के एक व्यक्ति ने एसएसपी अल्मोड़ा को इस बात की जानकारी दी कि उस पर हत्या का केस दर्ज है. यह भी बताया कि अदालत ने मुकेश समेत 6 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है. जांच के बाद खुलासा हुआ कि मुकेश ने भर्ती के दौरान गलत जानकारी दी थी.

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news