पुड्डुचेरी से पहली बार भाजपा को मिली राज्यसभा सीट, प्रधानमंत्री ने पार्टी के लिए बताया गर्व की बात

देशभर में अपने जनाधार और जनपतिनिधियों की संख्या बढ़ाने की मुहिम में लगी भाजपा को पुड्डुचेरी में एक बड़ी कामयाबी मिली है। 1980 में भारतीय जनता पार्टी के नाम से गठित होने वाले राजनीतिक दल को पहली बार पुड्डुचेरी से राज्यसभा की सीट मिली है।
पुड्डुचेरी से पहली बार भाजपा को मिली राज्यसभा सीट, प्रधानमंत्री ने पार्टी के लिए बताया गर्व की बात

देशभर में अपने जनाधार और जनपतिनिधियों की संख्या बढ़ाने की मुहिम में लगी भाजपा को पुड्डुचेरी में एक बड़ी कामयाबी मिली है। 1980 में भारतीय जनता पार्टी के नाम से गठित होने वाले राजनीतिक दल को पहली बार पुड्डुचेरी से राज्यसभा की सीट मिली है।

पार्टी की इस सफलता से उत्साहित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुड्डुचेरी से भाजपा को पहली बार राज्यसभा सीट मिलने को पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं के लिए गर्व की बात बताया है। पुड्डुचेरी की जीत से उत्साहित प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके लिखा कि यह भाजपा के सभी कार्यकर्ताओं के लिए गर्व की बात है कि हमारी पार्टी को एस सेल्वागणपति जी के रूप में पुड्डुचेरी से पहला राज्यसभा सांसद मिला है।

प्रधानमंत्री ने पुड्डुचेरी की जनता का आभार जताते हुए यह भरोसा दिलाया कि वे राज्य की प्रगति के लिए लगातार कार्य करते रहेंगे।

आपको बता दें कि केंद्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी में भाजपा, एआईएनआरसी की गठबंधन सरकार है और समझौते के तहत इस बार राज्यसभा सीट भाजपा के खाते में आई है और इस तरह से पुड्डुचेरी से पहली बार राज्यसभा में भाजपा का कोई सांसद पहुंचा है और वो भी निर्विरोध निर्वाचित होकर।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने अपने मंत्रिमंडल के दो सहयोगियों सवार्नंद सोनोवाल और एल मुरुगन को भी राज्यसभा चुनाव में निर्विरोध निर्वाचित होने पर बधाई दी।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया कि मेरे मंत्रिमंडलीय सहयोगियों सवार्नंद सोनोवाल और एल मुरुगन को क्रमश: असम और मध्य प्रदेश से राज्यसभा के लिए निर्वाचित होने पर बधाई।

उन्होने अपने दोनों मंत्रिमंडलीय सहयोगियों पर विश्वास जताते हुए लिखा कि ये दोनों संसद की कार्यवाहियों में अपना योगदान देंगे और लोगों की भलाई के हमारे एजेंडे को बढ़ाएंगे।

आपको बता दें कि सोमवार को इन सीटों पर नाम वापस लेने की आखिरी तारीख थी और इन सभी सीटों पर एक ही उम्मीदवार होने की वजह से निर्वाचन अधिकारियों ने इन्हे निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.