Corona: पीएम मोदी का बड़ा ऐलान, पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन
ताजा तरीन

Corona: पीएम मोदी का बड़ा ऐलान, पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन

पीएम मोदी ने कहा ये संपूर्ण लॉकडाउन एक तरह का कर्फ्यू ही है. यह कदम हर हिंदुस्‍तानी को बचाने के लिए लिया जा रहा है. आप सभी किसी भी तरह की अफवाह और अंधविश्‍वास से बचें.

Yoyocial News

Yoyocial News

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते खतरे से निपटने के लिए मोदी सरकार पूरी कोशिश कर रही है. इसके तहत कई अहम कदम भी उठाए जा रहे हैं. इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी पर देश को आज दूसरी बार संबोधित किया.

पीएम मोदी ने इस दौरान ऐलान किया कि आज (24 मार्च) रात 12:00 बजे से पूरे देश में लॉकडाउन किया जा रहा है. देश में यह लॉकडाउन 21 दिन के लिए होगा. यह जनता कर्फ्यू से आगे का कदम है. ये संपूर्ण लॉकडाउन एक तरह का कर्फ्यू ही है. यह कदम हर हिंदुस्‍तानी को बचाने के लिए लिया जा रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि आप सभी किसी भी तरह की अफवाह और अंधविश्‍वास से बचें.

पीएम मोदी ने कहा 'अगर इन 21 दिन आप नहीं संभले तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा. बाहर निकलना क्‍या होता है, यह 21 दिन के लिए भूल जाइये. घर पर ही रहें. मैं यह बात परिवार के सदस्‍य के तौर पर कह रहा हूं.' पीएम मोदी ने कोरोना लिखा एक बोर्ड दिखाते हए कहा इसमें लिखा है 'को-कोई, रो-रोड पर, ना- न निकले.' प्रयासों को बहुत गंभीरता से लें.

पीएम मोदी ने कहा 'कुछ लोगों की लापरवाही, कुछ लोगों की गलत सोच, आपको, आपके बच्चों को, आपके माता पिता को, आपके परिवार को, आपके दोस्तों को, पूरे देश को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी. पिछले 2 दिनों से देश के अनेक भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है. राज्य सरकार के इन प्रयासों को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए. आज रात 12 बजे से पूरे देश में, संपूर्ण लॉकडाउन होने जा रहा है.'

पीएम मोदी ने कहा 'मैं हाथ जोड़कर कह रहा हूं जो भारतीय जहां है, वहीं रहे. कोरोना वायरस से निपटने का सबसे बड़ा उपाय उन देशों से सीख है, जिन्‍होंने इससे निपटने के लिए अहम कदम उठाए'.

पीएम मोदी ने कहा कि 24 घंटे काम कर रहे मीडिया, डॉक्‍टरों, पुलिसकर्मियों और जरूरी सेवाएं दे रहे सभी लोगों के बारे में सोचिये जो घर परिवार से दूर जान जोखिम में डालकर अपना कर्तव्‍य निभा रहे हैं. उनके लिए प्रार्थना कीजिये'.

पीएम मोदी ने कहा कि सभी आवश्‍यक वस्‍तुओं की सप्‍लाई बनी रहे, इसके लिए उपाय किए गए हैं और आगे भी किए जाएंगे. यह दौर गरीबों के लिए संकट की घड़ी लाई है. उनकी मदद के लिए सब लोग साथ आ रहे है. केंद्र सरकार ने 15 हजार करोड़ रुपये का ऐलान किया है. इससे देश में कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के सभी संसाधन जुटाए जाएंगे. सभी सुविधाएं और सेवाएं बढ़ाई जाएंगी. सभी राज्‍य सरकारों से मैने अनुरोध किया है कि उनकी पहली प्राथमिकता स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं ही हों.'

पीएम मोदी ने कहा 'कोरोना वैश्विक महामारी से बनी स्थितियों के बीच, केंद्र और देशभर की राज्य सरकारें तेजी से काम कर रही है. रोजमर्रा की जिंदगी में लोगों को असुविधा न हो, इसके लिए निरंतर कोशिश कर रही हैं.'

पीएम मोदी ने कहा 'इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी. लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है.'

उन्‍होंने कहा 'आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण की साइकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है.'

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि हर भारतीय ने जनता कर्फ्यू को सफल बनाया है. हर भारतीय ने पूरी जिम्‍मेदारी के साथ जन कर्फ्यू में योगदान दिया है. आप सभी प्रशंसा के पात्र हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस से बचने का एकमात्र उपाय है सोशल डिस्‍टेंसिंग. इसके अलावा कोई और उपाय नहीं है. कुछ लोग इस गलतफहमी में हैं कि सोशल डिस्‍टेंसिंग सिर्फ बीमारों के लिए है. यह सही नहीं है. यह सभी नागरिकों के लिए है, प्रधानमंत्री के लिए भी है.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news